जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। किसी का मोबाइल राह चलते गिर गया तो किसी का आटो से पार हो गया। कुछ लोगों के मोबाइल घर से गायब हो गए थे। ऐसे करीब 125 मोबाइल फोन की तलाश में पुलिस की साइबर सेल के जवान लंबे समय से कोशिश में जुटे रहे। अंतत: गुमे हुए मोबाइल की तलाश पूरी हुई। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने लोगों को 125 मोबाइल लौटाए तो उनके चेहरे खिल उठे। फरियादियों ने कहा कि उन्होंने उम्मीद छोड़ दी थी कि गुमे हुए मोबाइल कभी वापस मिलेंगे। परंतु पुलिस ने अपनी जिम्मेदारी निभाई जिसके चलते उन्हें मोबाइल मिल पाए। मोबाइल वितरण कार्यक्रम का आयोजन मंगलवार दोपहर पुलिस कंट्राेल रूम में किया गया। ज्यादातर मोबाइल कालेज में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के रहे।

मोबाइल गुमने के बाद क़िस्त भरी: गढ़ा निवासी राजेंद्र मिश्रा ने बताया कि आटो में सफर के दौरान पैंट की जेब में रखा उनका मोबाइल गायब हो गया था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस थाने में शिकायत की थी। घटना से कुछ दिन पूर्व उन्होंने नया मोबाइल फाइनेंस कराया था। माेबाइल गुम जाने के बावजूद वे उसकी नियमित किस्त जमा करते रहे। उन्हें भरोसा था कि पुलिस की साइबर टीम उनका मोबाइल अवश्य तलाश लेगी।

पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर: पुलिस अधीक्षक बहुगुणा ने बताया कि मोबाइल गुमने की शिकायत नजदीकी पुलिस थाने में की जा सकती है। जिसके बाद शिकायत की छायाप्रति और मोबाइल बिल हेल्पलाइन नंबर 7587616100 पर भेजकर मदद ली जा सकती है। इस नंबर पर प्राप्त हाेने वाली मोबाइल गुमने की शिकायतों की जांच साइबर सेल द्वारा की जाती है।

फैक्ट फाइल:

1-वर्ष 2021 में पुलिस अब तक 339 गुमे हुए मोबाइल लोगों को लौटा चुकी है। जिनकी अनुमानित कीमत 42 लाख रुपये आंकी गई।

2-वर्ष 2020 में 360 मोबाइल फरियादियों को लौटाए गए थे। कीमत करीब 45 लाख रुपये थी।

3-वर्ष 2019 में पुलिस ने 512 गुमे हुए मोबाइल खोजे थे, जिनकी कीमत 63 लाख थी।

4-वर्ष 2018 में 318 मोबाइल फोन खोजे गए थे जिनकी कीमत 35 लाख रही।

ये रहे मौजूद: मोबाइल वितरण कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल प्रसाद खांडेल, साइबर सेल डीएसपी पंकज मिश्रा, प्रधान आरक्षक राजेश शर्मा, आरक्षक अमित पटेल, नितिन जोशी, राजा मिश्रा, आदित्य परस्ते, चंद्रिका पडवार, दुर्गेश दुबे, सौरभ शुक्ला, नवनीत चक्रवर्ती, अभिषेक मिश्रा, भगवान सिंह, अभिदीप भट्टाचार्य, कृष्णचंद्र तिवारी, दीपक मिश्रा, दीपक राजपूत, अरविंद सूर्यवंशी, मुकेश चौहान, विमल त्रिपाठी मौजूद रहे।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local