जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सरकारी ठेका दुकानों के लिए आवंटित शराब की खेप तस्करों तक पहुंचाई जा रही है। तस्करों ने जबलपुर समेत पड़ोसी जिलों में भी पैर पसार लिए हैं। वहां से भी देसी व अंग्रेजी शराब की तस्करी कर जबलपुर में खपाई जा रही है। सरकारी ठेका दुकानों की शराब तस्करों के हवाले करने वाले ठेकेदार पुलिस के निशाने पर आ गए हैं। जिनके खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। गोराबाजार में पकड़े गए शराब तस्कर से पुलिस ठेकेदारों का नाम उगलवाने की कोशिश में जुटी है। पुलिस ने मंडला-जबलपुर मार्ग पर दबिश देकर आटो एमपी 20 आर 1836 जब्त की।

चालक सीट के नीचे बनाई गई पेटी में अंग्रेजी शराब के 334 पाव जब्त हुए। गोराबाजार थाना प्रभारी सहदेव राम साहू ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर शराब व अन्य मादक पदार्थों के अवैध कारोबार के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। शुक्रवार रात मुखबिर से सूचना मिली कि आटो से अंग्रेजी शराब की तस्करी की जा रही है। क्राइम ब्रांच व गोराबाजार थाने की संयुक्त टीम ने घेराबंदी कर मंडला की तरफ से आ रही आटो को राहुल टाउनशिप के सामने रोक लिया।

चालक रोहित उर्फ बिल्ली साहू 32 वर्ष निवासी बरऊ मोहल्ला कांचघर ने पुलिस टीम को देखकर भागने का प्रयास किया। संदेह के आधार पर उसे हिरासत में लेकर शराब तस्करी की सूचना से अवगत कराया गया। बिल्ली ने सूचना को गलत बताकर आटो की तलाशी लेने के लिए कहा। तलाशी लेने पर आटो में शराब नहीं मिली। जिसके बाद चालक सीट की जांच की गई। सीट के नीचे बनाई गई पेटी में अंग्रेजी शराब के 334 पाव निकले। आटो जब्त कर बिल्ली के विरुद्ध धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत एफआइआर दर्ज की गई है। बिल्ली से पूछताछ की जा रही है कि उसने शराब की खेप कहां से प्राप्त की।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local