जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के कारण यात्री यातायात में आय पर पड़े प्रभाव को समायोजित कर देश की अर्थव्यवस्था को तीव्र गति से चलाने के उद्देश्य से रेलवे लगातार त नए-नए प्रयास कर रहा है। कोविड-19 महामारी के विषम परिस्थितियों में भी पमरे ने तीनों मंडलों में माह जून 2021 में लोडिंग के क्षेत्र में नई-नई दशाओं और दिशाओं को खोज कर नए आयाम स्थापित किए है। पमरे के तीनों मंडलों में व्यापार विकास इकाइयां स्थापित की गई है। जिसमें रेल अधिकारियों एवं लोडिंग करने वाले व्यापारियों का समूह नामित होता है।

व्यापारियों को मिलेगी सुविधाएं और छूट: व्यापारी अपना माल अधिक से अधिक रेलवे द्वारा बुक कराए। इसके लिए कई तरह की रियायतें छूट और सुविधाएं दी जाती है। जिससे व्यापारी अधिक से अधिक रेलवे की तरफ आकर्षित हो। इसके अंतर्गत पमरे ने अपने परंपरागत माल ढुलाई के अलावा अन्य नए माल उत्पादकों को ढूंढ निकाला है और उनकी सुविधानुसार साइडिंगो को खोलने का उपक्रम किया। जिसके सुखद परिणाम स्वरूप पमरे ने करोड़ों की अतिरिक्त आय अर्जित की और आगे भी यह अभियान जारी रहेगा।

तीनों मंडलों में स्थापित बीडीयू मार्केटिंग में प्रमुख माल ढुलाई में रिकार्ड रेल राजस्व

जून 2021 में पश्चिम मध्य रेल के तीनों मंडलों में स्थापित बीडीयू मार्केटिंग के तहत जिन प्रमुख वस्तुओं से माल ढुलाई में रिकॉर्ड रेल राजस्व प्राप्त किया है वह निन्न है।

खाद्य तेल लोडिंग- जून माह में कोटा मंडल के बूंदी माल गोदाम से 17 वैगनों में खाद्य तेल की लोडिंग की गई। जिससे रेलवे को रुपये 8.68 लाख की आय प्राप्त हुई।

बाजरा लोडिंग- कोटा मंडल के गंगापुरसिटी स्टेशन से तिरुपुर के लिए 27 वैगनों में बाजरा की लोडिंग कर 43.95 लाख रुपए की आय प्राप्त की।

लाल गेरू पाउडर की लोडिंग- कोटा मंडल के सवाई माधोपुर स्टेशन से 2 रैक लाल गेरू पाउडर बुक किया गया। जिससे रेलवे को रुपये 1 करोड़ की आय अर्जित किया गया।

सेंड लोडिंग- भोपाल मंडल के केपीएफपी से मंगलिया गांव रतलाम मंडल के लिए सेंड लोडिंग स्टेशन से स्टेशन के तहत की गई। इससे 79.05 लाख रुपये की आय प्राप्त की।

पश्चिम मध्य रेल मुख्यालय एवं जबलपुर भोपाल कोटा मंडल पर व्यापार विकास इकाइयां स्थापना की गई है जिनके द्वारा व्यापारियों के साथ समन्वय कर पमरे की लोडिंग को त्वरित गति प्रदान की गई है रेलवे ने माल गाड़ियों की गति में वृद्धि की जिससे माल समय पर और जल्दी पहुंचाना आसान हुआ है।

ऑनलाइन माल ढुलाई भुगतान कार्यान्वयन- डिजिटल को बढ़ावा देने के लिए पमरे ने माल ढुलाई भुगतान को ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध की गई है। जिससे लोडिंग व्यापारियों को ऑनलाइन भुगतान के लिए 24 घंटे समय सेवाएं उपलब्ध रहती है। इस सुविधा का उपयोग करते हुए पमरे ने जून 2021 में 163 रेलवे रिसिप्ट का भुगतान करके रुपये 53,67,56,723 की आय रेल राजस्व में प्राप्त हुई।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local