जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे ने कर्मियों के तबादले (पीरियडिकल ट्रांसफर) पर 30 सितंबर तक रोक लगा दी है। अभी कोरोना संक्रमण के चलते तबादले पर रोक 30 जून तक थी, लेकिन इसे और बढ़ाने की मांग वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन (डब्‍ल्‍यूसीआरईयू) ने ऑल इंडिया रेलवेमेन्‍स फेडरेशन (एआइआरएफ) के माध्यम से रेलवे बोर्ड से की थी, जिसके बाद रेलवे बोर्ड ने समयबद्ध तबादले की अवधि बढ़ाने का आदेश जारी किया। डब्‍ल्‍यूसीआरईयू के महामंत्री मुकेश गालव ने बताया कि पिछले साल कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा था, उस समय रेलवे बोर्ड ने समयबद्ध तबादले पर रोक लगाई थी, लेकिन उसकी अंतिम तारीख 30 जून 2021 थी, जबकि एक बार फिर पूरे देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर फैल चुकी है और विशेषज्ञ तीसरी लहर भी शीघ्र ही आने की संभावना व्यक्त कर रहे हैं, जिससे कर्मचारियों व उनके परिवार को तबादला होने पर जबर्दस्त प्रभाव पड़ेगा।

विस्‍तार की मांग को बोर्ड ने मान लिया : डब्‍ल्‍यूसीआरईयू ने एआइआरएफ के माध्यम से रेलवे बोर्ड पर पीरियडिकली तबादले की अवधि में विस्तार किए जाने की मांग की थी, जिसे बोर्ड ने मान लिया है। वहीं डब्‍ल्‍यूसीआरईयू के मंडल सचिव नवीन लिटोरिया व मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला ने कहा कि एआइआरएफ/डब्‍ल्‍यूसीआरईयू के कुशल नेतृत्व ने रेलवे बोर्ड पर जो दबाव बनाया, उसी के फलस्वरूप रेल कर्मचारियों के तबादले अब 30 सितम्बर 2021 तक नहीं किए जा सकेंगे। यदि कोरोना संक्रमण नियंत्रण में नहीं आता तो इस अवधि को और आगे बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। रेलवे बोर्ड के जाइंट डायरेक्टर एस्टिब्लेसमेंट (एन) डी जोसेफ के 22 जून 2021 को जारी आदेश में स्पष्ट किया गया है कि पूर्व में एक्सट्रा ऑर्डनेरी सिचुएशन (आकस्मिक परिस्थितियों) को देखते हुए रेल कर्मचारियों के समयबद्ध तबादले पर जो रोक 31 मार्च 2021 तक लगाई गई थी, उसे बढ़ा दिया है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags