जबलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे ने ट्रेनों की संख्या बढ़ा दी है, बावजूद इसके ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को राहत नहीं मिल रही। उन्हें मजबूरी में वेटिंग टिकट या फिर बिना टिकट ही ट्रेन में सफर करना पड़ा रहा है। रेलवे ने ऐसे यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए ट्रेनों में जांच बढ़ा दी है। इसका असर रेलवे की आय पर हुआ है। पिछले तीन माह में रेलवे की आय बढ़ी है। जबलपुर रेल मंडल से गुजरने वाली ट्रेनों में जांच कर तीन माह में 24 करोड़ रूपये की जुर्माना वसूल किया। दरअसल जबलपुर रेल मंडल ने ट्रेनों में बिना टिकिट और अनियमित टिकिट पर यात्रा करने पर अंकुश लगाने के लिए मंडल न टिकिट चेकिंग उड़नदस्ते और टिकिट निरीक्षकों द्वारा निरंतर जांच अभियान चलाया। इसका असर अब ट्रेनों पर दिखने लगा है।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विश्व रंजन ने बताया कि वाणिज्य विभाग ने अप्रैल से जून माह तक टिकिट चेकिंग में अनियमित यात्रियों को पकड़ कर उनसे 24 करोड़ 82 लाख रूपये से अधिक की आय अर्जित की। इस दौरान तीन लाख 4 हजार यात्रियों को बिना टिकट और अनाधिकृत यात्रा करने हुए रेलवे ने पकड़ा। मंडल के टिकिट चेकिंग स्टॉफ ने जून में एक लाख 14 हजार प्रकरणों में 9 करोड़ 87 लाख रूपये का रिकार्ड राजस्व वसूल किया है। वाणिज्य विभाग द्वारा सघन जांच से रिकार्ड तोड़ आय अर्जित की।

नि:शुल्क बूस्टर डोज शिविर आज -

मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में मंगलवार को कोरोना से बचाव का बूस्टर डोज, रेल कर्मचारियों को नि:शुल्क लगाया जाएगा। मंडल के 16 हजार रेल कर्मचारियों के लिए नि:शुल्क बूस्टर डोज लगवाने के लिए शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर में रेल कर्मचारियों के पहचान पत्र एवं आधार कार्ड पर आज सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक कार्मिक विभाग के निकट होम्योपैथिक डिस्पेंसरी में निशुल्क कोवि-शील्डि एवं को-वैक्शीन का बूस्टर डोज लगाया जाएगा। इसके पूर्व जबलपुर स्टेशन के लॉबी में आयोजित बूस्टर शिविर में लगभग 200 रेल कर्मचारियों ने बूस्टर डोज लगवाया था।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close