जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बसों में किराया अधिक वसूला जा रहा है। ऐसी शिकायतें लगातार आरटीओ संतोष पाल के पास पहुंच रही थी। इन शिकायतों को देखते हुए आरटीओ ने सभी बस आपरेटरों से बैठक की और स्पष्ट निर्देश दिए कि वह अपनी बसों में जितना निर्धारित किराया है उतना ही सवारी से लें। वहीं यदि अब किसी भी बस आपरेटर की शिकायत आती है, तो उस पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही दिव्यांगों के लिए किराया में विशेष छूट दें।

अधिक वसूला जा रहा किराया : आरटीओ संतोष पाल ने बताया कि बस आपरेटरों की बैठक की गई है। जिसमें यह निर्देश दिए गए हैं कि बसों का किराया अधिक वसूला जा रहा है। इस पर तत्काल रोक लगाएं और ड्राइवर कंडक्टर यदि ऐसा करते मिलते हैं, तो उन पर कार्रवाई करें। इसके अलावा बसों में किराया सूची अवश्य लगाएं, जिससे कहां का किराया कितना है वह स्पष्ट हो सके। इसमें सवारियों को भी आसानी होगी। बस आपरेटर अपना मोबाइल नंबर किराया सूची के नीचे लिखें। ताकि यदि कोई ड्राइवर, कंडक्टर अधिक किराया ले रहा है, तो वह दिए गए नंबर पर बस आपरेटर को सूचना दे सके। दिव्यांगों को सवारी के दौरान अलग सीट रखें और उनके किराए में 50 प्रतिशत की छूट दें।

कभी भी कर सकते हैं औचक निरीक्षण : आरटीओ ने बताया कि व्यवस्थाएं ठीक है या नहीं इसके लिए अलग से टीम भी गठित की गई है। जो लगातार बाइपास समेत अन्य स्थानों में बसों को रोककर औचक निरीक्षण करेगी। इसमें यात्रियों की टिकट देखी जाएगी और उनसे किराए के बारे में जानकारी भी ली जाएगी। यदि टिकट कम की दी हुई है और किराया अधिक लिया होगा, तो ड्राइवर, कंडक्टर और बस आपरेटर पर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local