जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मौसम का मिजाज बुधवार को भी बदला रहा। श्रावण मास में अजब नजारे देखने मिले, सुबह से रिमझिम बारिश होती रही। करीब साढ़े 11 बजे बारिश थम गई और अचानक मौसम साफ हो गया। बादलों की ओट में छिपे सूर्य देव भी अपना तेज बिखरते सामने आ गए। इसके बाद फिर बादलों के साये में गुम हो गए। कुछ देर बाद मौसम ने रंगत बदली और हवाओं के ठंडे झोकों के साथ फिर से धूप खिल उठी। बीच-बीच में रिमझिम फुहारें भी भिगो रही हैं। वहीं लोग भी मौसम के इस रूप का आनंद ले रहे हैं।

ऐसा ही रहेगा मौसम का मिजाज: बादल, बारिश और धूप का ये नजारा आगे भी देखने मिलेगा। मौसम विभाग की माने तो पश्चिमोत्तर मध्यप्रदेश में चक्रवात सक्रिय है। लेकिन अगले 24 घंटों में यह कमजोर पड़ जाएगा। कम दबाव का क्षेत्र भी जैसलमेर, अलवर, पटना, वाराणसी तक विस्तृत है। इसलिए अब बारिश के आसार कम है। लेकिन बंगाल की खाड़ी में एक नया चक्रवात बन रहा है। इसके असर से मध्यप्रदेश सहित जबलपुर में बादल, बारिश और धूप का नजारा देखा जा सकेगा।

कम हुई बारिश: मानसूनी सिस्टम कमजोर पड़ने से बीते 24 घंटे में सिर्फ 0.8 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। इसी के साथ बारिश का अब तक का कुल आंकड़ा 413.6 मिमी यानी 16.2 इंच पर पहुंचा है। हालांकि पिछले नो दिनों से जारी कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश के कारण वातावरण में आई नमी से अधिकतम तापमान 28 और न्यूनतम 22 डिग्री सेल्सियस पर पर आ गया है।

गत वर्ष से 3 इंच ज्यादा: फिलहाल पिछले साल के मुकाबले अभी तक 3 इंच ज्यादा बारिश हो चुकी है। जबलपुर में अभी तक 16. 2 इंच बारिश हुई है। जबकि पिछले साल आज के दिन तक 13 इंच बारिश दर्ज की गई थी।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local