जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कैंट क्षेत्र के 24 हजार व्यक्तियों के नाम कैंट की मतदाता सूची से उनके नाम काटे गए हैं। यह मतदाता अब कैंट के वार्ड चुनाव में मतदान नहीं करेंगे, जिससे चुनाव परिणाम सही नहीं आएगा। इसलिए इन सभी मतदाताओं को जमीन या मकान का मालिकाना हक देकर उनके नाम मतदाता सूची में शामिल किए जाएं। शिवसेना ने यह मांग लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के नाम लखनऊ मोहनगंज सांसद कौशल किशोर को ज्ञापन दिया।

शिवसेना के प्रदेश प्रवक्ता कन्हैया तिवारी ने बताया कि शिवसेना, अखिल भारतीय छावनी उत्थान संघर्ष समिति, छावनी किसान संघ के सदस्य कैंट की मतदाता सूची हटाए गए नामों को दोबारा जुड़वाने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। इसमें गृहमंत्री अमित शाह, जबलपुर सांसद राकेश सिंह, होशंगाबाद सांसद राव उदय प्रताप सिंह, सागर सांसद राजबहादुर सिंह और राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा को ज्ञापन दिया गया। उक्त सभी जनप्रतिनिधियों से संसद में अध्यादेश लाकर 24 हजार मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़ने और मकान या जमीन का अधिकार देने की मांग की गई। सांसद कौशल किशोर ने भरोसा दिया है कि 4-5 मार्च को दिल्ली में रक्षामंत्री के साथ बैठक कराएंगे। ज्ञापन देने वालों में कन्हैया तिवारी, एडवोकेट द्वारका वर्मा, घनश्याम बावरिया आदि शामिल रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network