जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में शामिल हुए पाटन रोड स्थित रैंगवां गांव में छह साल बाद भी ढंग की सड़क बन पाई है न नियमित रूप से सफाई हो रही है। नगर निगम में शामिल होने के बाद निगम नागरिकों से शहर की तरह टैक्स तो ले रहा है, लेकिन सड़क, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं नहीं दे रहा है। आलम यह है कि रैंगवां में जल निकासी के लिए नालियां तक नहीं बनाई गई हैं। डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन की गाड़ी का पहुंचना तो दूर रोजाना झाड़ू तक नहीं लग रही।

रैंगवां निवासी सौरभ पटेल ने कलेक्टर को शिकायत में बताया कि उनके घर के सामने ही एक नाली पांच साल से बंद है। पानी की निकासी नहीं हो रही। निस्तार का पानी घर में घुस रहा है। कचरा गाड़ी न आने से लोग खाली जगहों पर कचरा फेंक रहे हैं। घर के आसपास फैली गंदगी से डेंगू, मलेरिया जैसी संक्रामक बीमारियों का अंदेशा बना रहता है।

सुपरवाइजर भी नहीं दे रहा ध्यानः

शिकायत में कहा है कि नाली निर्माण कर पानी की निकासी सुनिश्चित करने और सफाई कराने के लिए वार्ड के सुपरवाइजर से कई बार मिन्नतें कीं लेकिन वह भी ध्यान नहीं दे रहा। कलेक्टर से मूलभूत सुविधाओं में सुधार कराने की मांग की गई है।

----

2014 में शहर से जुड़ा रैंगवां:

विदित हो कि वर्ष 2014 में हुए वार्ड परिसीमन के बाद शहर के 55 गांव नगर निगम की सीमा में जोड़े गए थे। इनमें पाटन रोड स्थित रैंगवां भी शामिल है।

............

वार्ड की समस्याओं का समाधान जल्द ही किया जाएगा। साफ-सफाई का काम सोमवार से निरंतर होगा।

-संतोष अग्रवाल, संभागीय अधिकारी, सुहागी जोन

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020