जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मदनमहल दरगाह में गुरुवार को ग्‍यारहवीं शरीफ की आखिरी जुमरात पर जायरीन का भारी हुजूम रहा। अलसुबह से जायरीन की आमदो रफ्त शुरू हो गई थी। दोपहर तक जायरीन की तादाद हजारों तक पहुंच गई। अकीदतमंदों ने दरगाह में नज्रो न्‍याज पेश की। चादर निशान चढ़ाए तथा लंगर तबर्रुक तकसीम किया।

गूंजते रहे नारे : दरगाह परिसर में या गौस अलमदद के नारे गूंजते रहे। दरगाह में महिलाओं एवं मासूम बच्‍चों की अच्‍छी खासी तादाद मौजूद रही। अनेक मुजावरों पर हाल की आमद हुई। मुरादियों की भीड़ बाबाओं के आसपास लगी रही। दरगाह में पुलिस बल का माकूल इंतजाम रहा।

सूफी संत सम्‍मेलन : जल्‍सागाह में दोपहर जुहर की नमाज के बाद सूफी संत सम्‍मेलन इज्‍तमाए सूफिया का एहतेमाम किया गया। नायब मुतवल्‍ली सैयद कादिर अली ने सम्‍मेलन की सदारत फरमाई। सज्‍जादानशीन मुबारक अली कादरी ने इज्‍तमाए सूफिया में कौमी एकता तथा आपसी भाईचारा बनाने का आव्‍हान किया। बासित अली कादरी, इनायत अली ने नअत शरीफ व मन‍कबत पाक पेश की। खादिमाने दरगाह मुबारक कादरी, निजाम अली, आफताब कादरी, याकूब अली शाह, मंसूर अली, जलील शाह, अतहर कादरी, शराफत अली ने हाजिरीन की दस्‍तारबंदी फरमाई। सैयद इदरीस अली, आबिद अली, मुहम्‍मद अली, सलामत अली, असगर अली ने तबर्रुक पेश किए। सायं मगरिब की नामज की अदायगी के बाद सलातो सलाम पेश किया गया।

कुल शरीफ आज : नायब मुतवल्‍ली के मुताबिक शुक्रवार को दोपहर 2.30 बजे दरगाह में कुल शरीफ का एहतेमाम किया जाएगा। इस मौक पर सूफी हजरात की दस्‍तारबंदी कर विदाई दी जाएगी। अकीदतमंदों से शिरकत की गुजारिश की गई है।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local