Janta Curfew in Jabalpur : जबलपुर। कोरोना वायरस संक्रमित 4 मरीज मिलने के बाद जबलपुर में प्रशासन ने लॉक डाउन चार दिन और बढ़ा दिया है। अब शहर में 26 मार्च तक दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान, निजी और शासकीय संस्थान बंद रहेंगे। अति आवश्यक सेवा, दवा, दूध, सब्जियों, फल एवं राशन जैसी दैनिक आवश्यक्ताओं को छोड़र सभी दुकानें बंद रहेंगी। जबलपुर कलेक्टर भरत यादव ने इसके निर्देश जारी किए हैं। अति आवश्यक सेवाओं वाले वाहनों को छोड़कर बसों के संचालन पर भी प्रतिबंध की अवधि चार दिन बढ़ाई गई है। जबलपुर में जनता कर्फ्यू के दौरान शहर में सन्नाटा पसरा रहा, सभी लोगों ने घरों में ही रकर कोरोना वायरस को रोकने के लिए सहयोग किया। जबलपुर में चार पॉजिटिव केस मिलने के बाद दहशत का माहौल है।

महाकोशन और विंध्य में ऐसा रहा जनता कर्फ्यू का हाल

नरसिंहपुर को करीब 14 दिनों के लिए लॉक डाउन किया गया है। करेली रेलवे स्टेशन पर यहां आने वाली ट्रेनों से उतरने वाले यात्रियों की जांच की जा रही है। नरसिंहपुर में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए किए गए एहतियात के तौर पर रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान नगरीय इलाकों में लोग घरों में ही रहे। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों ने भी घर में ही रहकर इसमें सहभागिता। इलाकों में सन्नाटा रहा, पुलिस बल और स्थानीय प्रशासन तैनात शहर में तैनात रहा।

मंडला में नर्मदा तट भी नजर आए खाली

मंडला जिले में जनता कर्फ्यू का व्यापक असर देखने को मिल रहा है, शहर की सभी सड़कें सूनी रहीं। इक्का-दुक्का वाहन ही शहर में देखे जा रहे हैं। मंदिर, मस्जिद सभी बंद हैं, नर्मदा तटों में कोई दिखाई नहीं दे रहा है। लोग जनता कर्फ्यू का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं। जिले में यात्री वाहन पूरी तरह से बंद हैं जो लोग इतनी रात अन्य जिलों से मंडला आ गए हैं उन्हें अपने गांव जाने के लिए भी कोई साधन नहीं मिल रहा है।

शहडोल में उतरने वाले यात्रियों के लिए घर जाने के लिए बस की व्यवस्था

जनता कर्फ्यू के दौरान शहडोल में ट्रेन से आने वाले यात्रियों के लिए अपने घर तक पहुंचने के लिए कलेक्टर ने एक बस की व्यवस्था की है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket