जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Madhya Pradesh News मध्य प्रदेश के जबलपुर में एकतरफा प्यार में सिरफिरे ने सोमवार दोपहर 17 वर्षीय नाबालिग की हत्या कर दी। आरोपित ने किशोरी के शरीर पर चाकू से 22 वार किए, जिससे उसकी आंतें बाहर आ गईं और एक आंख भी फूट गई। किशोरी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

पुलिस के अनुसार, दोपहर तीन बजे कुदवारी गोहलपुर निवासी किशोरी घर में अकेली थी। इसी दौरान आरोपित कुदवारी निवासी शिव कुमार चौधरी (25) घर में घुस गया और ऑनलाइन खरीदे गए चाकू से किशोरी पर ताबड़तोड़ वार किए। किशोरी की हत्या के बाद आरोपित बेहोशी का नाटक कर उसके कमरे में ही पड़ा रहा। पुलिस उसे अस्पताल ले गई।

उसकी हालत गंभीर मानकर चिकित्सक उसे मेडिकल कॉलेज रेफर करने की तैयारी कर रहे थे तभी पुलिस अधीक्षक अमित सिंह को उसकी बेहोशी पर संदेह हुआ। इसी दौरान एक स्वास्थ्यकर्मी ने आरोपित की नाक में कोई रासायनिक पदार्थ डाला, जिससे वह ज्यादा देर तक बेहोशी का नाटक नहीं कर पाया और स्ट्रेचर पर बैठ गया। आकस्मिक चिकित्सा कक्ष में उसने पुलिस अधीक्षक के समक्ष किशोरी की हत्या करना स्वीकार किया।

हत्या का प्रकरण दर्ज कर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। गोहलपुर थाना प्रभारी प्रवीण धुर्वे ने बताया कि किशोरी दसवीं की छात्रा थी। उसके माता-पिता खेत में मजदूरी करते हैं। शिव कुमार चौधरी किशोरी से एकतरफा प्यार करता था। जिसके चलते कई बार उसका रास्ता रोककर छेड़छाड़ कर चुका था। छात्रा की शिकायत पर गोहलपुर थाने में शिव कुमार के खिलाफ 23 सितंबर को छेड़छाड़ तथा पाक्सो के एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर जेल भेज दिया था। करीब 10 दिन पूर्व वह जमानत पर जेल से बाहर आया।

सिकलसेल एनीमिया की बीमारी बताई

आरोपित ने पूछताछ के दौरान पुलिस अधीक्षक अमित सिंह को बताया कि वह सिकलसेल एनीमिया से पीड़ित है तथा इसी आधार पर उसे न्यायालय से जमानत मिली थी। आरोपित ने कहा कि किशोरी ने उसके खिलाफ छेड़छाड़ की रिपोर्ट लिखाकर जेल भेज दिया था। जेल में ही उसने किशोरी को सबक सिखाने की योजना बना ली थी। ऑनलाइन चाकू मंगाने के बाद बुधवार को वह मौका पाकर किशोरी के घर में घुस गया और उसकी हत्या कर दी।

पड़ोसी ने अस्पताल पहुंचाया

घटना के समय किेशोरी के कमरे से आई दर्द भरी आवाज सुनकर पड़ोसी हैरत में पड़ गए। कुछ देर बाद कमरे से आवाज आना बंद हो गई। पड़ोसियों ने आवाज लगाई लेकिन कमरे के भीतर से कोई जवाब नहीं मिला। धक्का मारकर दरवाजा खोला गया तो किशोरी बिस्तर पर लहूलुहान अवस्था में पड़ी थी।

शिव कुमार के कपड़े खून से सने थे वह भी अचेत हालत में बिस्तर पर पड़ा रहा। एक महिला ने किेशोरी को ऑटो से विक्टोरिया पहुंचाया और पुलिस को सूचना दी। डायल 100 जब मौके पर पहुंची तो शिव कुमार किशोरी के कमरे में बिस्तर पर बेहोशी का नाटक कर पड़ा मिला।

Posted By: Hemant Upadhyay