राहुल रैकवार, जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Madhya Pradesh News : कोरोना संकट के कारण बीते 2 माह से लॉकडाउन में फंसे लोगों को रेलवे ने 1 जून से राहत दे दी है। जबलपुर से दो ट्रेन सोमवार को चली जिसमें जबलपुर से हबीबगंज जनशताब्दी और जबलपुर से हजरत निजामुद्दीन गोंडवाना एक्सप्रेस शामिल रही।

हालांकि यह दोनों ही ट्रेन पूरी तरह भर कर नहीं जा पाई लेकिन जितने भी यात्री इन ट्रेनों से अपने अपने गंतव्य के लिए रवाना हुए वह जाते वक्त भावुक हो गए। किसी को अपने ससुराल तो किसी को अपने मायके जाना था। कोई बिजनेस के सिलसिले में दिल्ली जाना चाहता था तो कोई जॉब के लिए जा रहा था।

दिल्‍ली निवासी दो छात्रा जबलपुर में आकर फंस गई थी। बीते दो माह से यह छात्राएं अपने नाना नानी के घर रह रही थी। लेकिन जब आज ट्रेन से रवाना हुई तो भावुक हो गई।

इस गाड़ी को जबलपुर रेल मंडल के अधिकारियों ने ट्रेन को ताली बजा कर रवाना किया। सभी यात्रियों ने भी खुशी जाहिर की। यात्रियों को 90 मिनट पहले रेलवे स्टेशन बुलाया गया था। जिसके बाद उनकी स्क्रीनिंग की गई ऑफ मास्क वाह हैंड क्लब्स मुहैया कराए गए। सभी यात्रियों को शारीरिक दूरी बनाकर जाने की हिदायत दी गई।

सबसे पहले जबलपुर से सुबह 5:30 बजे जबलपुर हबीबगंज जनशताब्दी एक्सप्रेस रवाना हुई जिसमें लगभग 600 यात्रियों ने सफर किया। इसी तरह जबलपुर से हजरत निजामुद्दीन जाने वाली गोंडवाना एक्सप्रेस दोपहर 3:10 बजे जबलपुर से रवाना हुई। जिसमें 1156 यात्रियों ने सफर किया।

इस दौरान रेलवे स्टेशन में आरपीएफ व जीआरपी ने सुरक्षा की तगड़ी व्यवस्था की थी। यात्रियों की सघन चेकिंग की गई। इसके लिए डॉग स्कॉट भी तैनात रहा। स्टेशन पर खुद मंडल रेल प्रबंधक ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया इसके साथ ही वरिष्ठ अधिकारी दोनों ट्रेनों को रवाना करने तक व्यवस्थाएं संभालते रहे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना