बाड़ी (रायसेन)। बुधवार देर शाम बारना बांध के सभी गेट खोल दिए गए थे, जिससे रात 12 बजे बारना नदी का पुल डूब गया। इससे जयपुर-जबलपुर नेशनल हाईवे 12 बंद हो गया, जो गुरुवार शाम तक नहीं खुला था। वहीं बरेली क्षेत्र की तेंदोनी नदी का पुल गुरुवार दोपहर 2 बजे डूबने से बरेली-पिपरिया मार्ग बंद हो गया। बारना बांध के गेट खोलने से बरेली की निचली बस्तियों में पानी भर गया था। इधर, बेतवा नदी के पग्नेश्वर पुल पर गुरुवार को लगभग 7 फीट पानी था, जिससे रायसेन से सांची, सलामतपुर, दीवानगंज का सड़क संपर्क टूटा रहा।

सुनार नदी खतरे के निशान से ऊपर

सुनार नदी गुरुवार को खतरे का निशान पार कर गई है। प्रशासन ने डूब क्षेत्र में लगी दुकानों को हटवाया एवं आवासीय क्षेत्र में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा है। पुलिस प्रशासन ने नदी के दोनों किनारे पुलिस बल तैनात किया है। इध्ार बीना नदी उफान पर है, जिससे मालाघाट पुल पर बाढ़ का पानी होने से राहतगढ़खुरई मार्ग गुरुवार को बंद रहा।

Posted By: Saurabh Mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags