जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के तहत शहर को साफ और सुंदर दिखाने की चाह में नगर निगम ने सफाई के अलावा रंगाई-पुताई में लाखों रुपये खर्च किए। सरकारी भवनों की बाहरी दीवारों से लेकर निगम स्वामित्व की दुकानों की बाहरी दीवारों पर रंगरोगन कराया। दीवारों पर आकर्षक चित्रकारी भी कराई। चित्रकारी करने के लिए बाहर से चित्रकार, कलाकार भी बुलवाए गए। लेकिन अब दीवारों पर उकेरी गई चित्रकारी को दुकानदार हटवा रहे हैं। नौदरा ब्रिज के समीप नगर निगम स्वामित्व की दुकान की दीवार पर बनाए गए शहर के सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल भेड़ाघाट के चित्र को सिनफुल डिलाइट के दुकानमालिक द्वारा हटवाया जा रहा है। मजदूरों को लगाकर दीवार पर उकेरी चित्रकारी उखाड़ी जा रही है। लेकिन नगर निगम को इसकी भनक तक नहीं है।

पानी के सीपेज से हो गया डेढ़ लाख का नुकसान-

नगर निगम द्वारा कराई गई चित्रकारी को हटाने वाले दुकान मालिक की दलील है कि उनकी दुकान की बाहरी दीवार पर राजनीतिक, सामाजिक संगठन राजनीतिक अक्सर दीवार की पेंटिंग के ऊपर ही बैनर, पोस्टर ठोक देते हैं, जिससे दीवार क्षतिग्रस्त हो गई है। बारिश के कारण दीवार में सीपेज होने से उनकी दुकान में रखा ड्रायफूट व अन्य किराना सामग्री खराब हो गई, जिसे फेंकना पड़ा। करीब डेढ़ लाख रुपये का नुकसान हो गया। दुकान मालिक का ये भी कहना है कि वे दीवार की मरम्मत करवा कर दोबारा पेंटिंग बनवा देंगे।

निगम को सूचना नहीं-

इधर नगर निगम को इसकी भनक तक नहीं है। जबकि जिस दुकान पर नगर निगम ने चित्रकारी करवाई है वे नगर निगम के स्वामित्व की है। दुकानदारों से हर माह करीब दो हजार रुपये निगम किराया भी वसूल रहा है। बावजूद इसके निगम को इसकी सूचना नहीं दी गई। अब निगम अधिकारियों का कहना है कि इस संबंध में जानकारी ली जाएगी। यदि दुकानदार अपने मद से दीवार की मरम्मत करवा रहा है और दोबारा पेटिंग कराने कहता है तो इस पर विचार किया जा सकता है।

शहर साफ और सुंदर दिखे, इसलिए दीवारों पर आकर्षक पेंटिंग कराई गई है। यदि उसमें किसी तरह की छेड़छाड़ की जा रही है तो इसकी जानकारी ली जाएगी।-भूपेेंद्र सिंह, स्वास्थ्य अधिकारी, नगर निगम

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close