जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नगर निगम के संभागीय अधिकारियों सहित विभाग प्रमुखों की पगार इस माह खटाई में पड़ सकती है। क्योंकि ड्यूटी के नाम पर कर्मचारियों द्वारा की जा रही गफलत की शिकायत मिलने पर निगमायुक्त ने सभी विभाग प्रमुख और संभागीय अधिकारियों से उनके अधीनस्थ कर्मचारियों की उपस्थति पत्रक सहित कामकाज का ब्योरा 20 जुलाई तक जमा करने कहा था। ये चेतावनी भी दी थी कि यदि तय समय सीमा तक कर्मचारियों का ब्योरा जमा नहीं किया तो अधिकारियों, विभाग प्रमुखों का वेतन भुगतान भी नहीं किया जाएगा। इस चेतावनी के बाद भी निगम के करीब साढ़े तीन हजार कर्मचारियों में से करीब 60 फीसदी ने ही उपस्थति पत्रक जमा किया है। लिहाजा अधिकारियों का वेतन खटाई में पड़ता नजर आ रहा है।

मूल पद सहित मोबाइल नंबर देने कहा: नगर निगम अपर आयुक्त महेश कोरी ने सभी 16 संभागीय अधिकारियों सहित राजस्व, लोक निर्माण, स्वास्थ्य, जल विभाग, अतिक्रमण विभाग के प्रमुखों को अपने-अपने अधीनस्थ कर्मचारियों की उपस्थिति पत्रक मूल पद और मोबाइल नंबर सहित 20 जुलाई तक स्थापना शाखा में जमा करने के निर्देश दिए थे।

ड्यूटी में हो रही गफलत: दरअसल ये सारी कवायद इसलिए की जा रही है कि नगर निगम कहां किस विभाग में पदस्थ है, उनका मूल पद क्या है यह पता भी नहीं चलता है। नगर निगम में करीब साढ़े तीन हजार कर्मचारी है। जिसमें अधिकांश ड्यूटी पर नहीं रहते लेकिन उन्हें वेतन का पूरा भुगतान किया जा रहा है। लिहाजा उपस्थिति पत्रक के साथ कर्मचारियों के मूल पद और फोन नंबर जमा कराए जा रहे हैं। ताकि उपस्थिति पत्रक के हिसाब से उनके वेतन का भुगतान किया जा सके।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags