----

जबलपुर। नईदुनिया रिपोर्टर

स्वच्छता की ओर एक कदम विषय पर आयोजित कार्यशाला में महापौर डॉ.स्वाति गोडबोले ने सिंगल यूज्ड प्लास्टिक को बंद करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा सिंगल यूज्ड प्लास्टिक बेहद खतरनाक है। इसे भगाना अकेले सरकार की जवाबदारी नहीं है। बल्कि हर किसी को मिल जुलकर इस अभियान को सफल बनाना है। प्लास्टिक की पॉलीथिन से पर्यावरण पर बुरे असर हो रहे हैं। हजारों गाय पॉलीथिन खाने की वजह से मर रही हैं। इन्हें बचाने के लिए पॉलीथिन को न कहना होगा। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य पर कार्यशाला गणित विभग में आयोजित की गई। कुलपति प्रो.कपिल देव मिश्र ने कहा कि पॉलीथिन को लेकर बायोसाइंस विभाग के डिजाइन इनोवेशन सेंटर में रिसर्च हो रहा है। ऐसी पॉलीथिन निर्माण पर जोर है जो गाय खा भी ले तो वह पेट में पहुंचकर गल जाएगी। वहीं जमीन में फेंकने पर भी पॉलीथिन नष्ट हो जाएगी। महापौर ने कहा कि नगर निगम के पास प्लास्टिक के कचरे से सड़क बनाने का प्रस्ताव आया है, जिस पर विचार हो रहा है। प्लास्टिक का उपयोग सड़क में करने से निर्माण मजबूत होगा वहीं प्लास्टिक कचरे का भी उपयोग हो पाएगा। सेवानिवृत्त प्राध्यापक अरुण कुमार ने कार्यक्रम को सराहा। कार्यक्रम से पूर्व कैंपस में महापौर और अन्य अतिथियों ने पौधरोपण किया। गणित विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ.पूर्णिमा जैन के मार्गदर्शन में गांधी फिल्म का प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में प्रो.एम दुबे, प्रो.एसएस पांडे, डॅ.जेके मैत्रा, डॉ.एसएस राणा, डा.धीरेन्द्र मौर्या, संदीप चौरसिया, प्रतिभा जय सिंह, विनोद अग्रवाल, परीक्षा नियंत्रक डॉ.एनसी पेंडसे, पूनम अग्रवाल, नजीर अहमद,शिखा आदि मौजूद रहे।