....

जबलपुर। नईदुनिया रिपोर्टर

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया(आईसीएआई) द्वारा सीए फाइनल का रिजल्ट जारी कर दिया है। जिसमें सीए ओल्ड व न्यू कोर्स दोनों के परीक्षा परिणामों की घोषणा की गई है। ओवर ऑल पूरे रिजल्ट की बात करें तो अपेक्षाकृत अच्छा परिणाम आया है। विशेषज्ञ सीए आशुतोष ददरिया ने बताया कि परीक्षा का आयोजन नवम्बर में किया गया था। प्रश्नपत्र एवरेज था लेकिन स्टूडेंट्स में सीए को लेकर धीरे-धीरे जागरुकता आ रही है इसलिए परीक्षा परिणाम अच्छा हो रहा है। समय के साथ लड़कियों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है सीए के क्षेत्र में।

सोशल मीडिया से दूरी

सीए बनने के लिए बहुत मेहनत करना पड़ती है यह सुना था लेकिन जब सीए की तैयारी की तो पता चला कि सच में बहुत मेहनत करना पड़ती है। अब रिजल्ट आया है तो अच्छा लग रहा है। मेरे माता-पिता का नाम रंजना व राजेश कुमार शर्मा है।

हिमांशु शर्मा, सीए क्लियर

------------

मैनेजमेंट से संभव

सीए की पढ़ाई के लिए मैंने मैनेजमेंट से तैयारी की। समय का प्रबंधन सबसे जरूरी रहा। जहां मैेंने हर विषय के लिए समय दिया। रिजल्ट आने पर खुशी हो रही है। मेरे माता-पिता का नाम- साधना व सीए मनोज जैन है। पिता सीए हैं तो उनसे काफी कुछ सीखा।

निशांत जैन, सीए क्लियर

------------

सपना पूरा हुआ

मेरा सपना था कि मैं अपने पिता की तरह ही सीए बनूं। आज रिजल्ट आने पर लग रहा है कि सपना पूरा हो गया। मैंने परीक्षा की तैयारी के लिए सोशल मीडिया से दूरी बनाए रखी। मेरे माता-पिता का नाम मिथलेश व सीए रमेश नायक है।

शुभांशु नायक, सीए क्लियर

------------

बड़ी है अवेयरनेस

सीए को लेकर अब स्टूडेंट्स में काफी अवेयरनेस बढ़ी है। शहर में कोचिंग संस्थान तैयारी भी अच्छे से करवा रहे है। इसी का परिणाम है कि सीए जैसे कठिन पेपर की तैयारी अच्छे से हो जाती है। मेरा सीए क्लियर हो गया है अब इंटर्नशिप की तैयारी करना है। मेरे माता-पिता का नाम- शिल्पा राठी व सीए रवींद्र राठी।

रोहित राठी, सीए क्लियर

---------

सोशल मीडिया से दूरी

मैंने इंटरनेट का उपयोग पढ़ाई के लिए साथ ही परीक्षा के पहले सोशल मीडिया से काफी दूर बनाए रखी। अब जाकर लग रहा है कि मेरी मेहनत सफल हो गई। मेरे पिता का नाम स्व. प्रदीप कुमार जैन है।

प्रांजल जैन, सीए क्लियर

-------------

अब इंटर्नशिप की तैयारी

मैंने दोनों ग्रुप क्लियर करके सीए क्लियर कर लिया है। सीए बनना मेरा सपना था। इसके लिए उचित दिशा में मेहनत की। सफलता के लिए जरूरी है लक्ष्य बनाकर तैयारी हो। मेरे माता-पिता का नाम- स्वाति- राजेंद्र कुमार मातानी है।

शिखा मातानी, सीए क्लियर

--------------

नाम- साक्षी साहू, सीए क्लियर

--------------

इंतजार था रिजल्ट का

पिछले कई दिनों से कहा जा रहा था कि रिजल्ट आने वाला है तो मन में चिंता थी कि पता नहीं क्या होगा। बेसब्री से इंतजार था रिजल्ट का। रिजल्ट आया तो लगा अब मंजिल दूर नहीं। मैं गोराबाजार में रहता हूं और मेरी सफलता में दादा जी फूलचंद अग्रवाल, चाचा सुंदर अग्रवाल के साथ ही माता-पिता मंजू व दिलीप अग्रवाल का बहुत सहयोग है।

आयुष अग्रवाल, सीए क्लियर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan