जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नामर्द और भिखारी जैसे अपमानजनक शब्दों को सब्जी व्यापारी बर्दाश्त नहीं कर पाया था। अपमाजनक शब्दों से व्यथित होकर उसने आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने दो महिला समेत चार आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गोहलपुर थाना प्रभारी अरविंद चौबे ने बताया कि मूलचंद्र सिंधी उर्फ मुरली खत्री 53 वर्ष अपनी मां के साथ सुभाष नगर में किराए के मकान में रहता था। सब्जी बेचकर वह अपना व मां का भरण-पोषण करता था। पड़ोस में रहने वाले सुनील सोनी, रोशनी सोनी, राजेश पटेल व पूजा पटेल उसे नामर्द व भिखारी बोलकर आए दिन अपमानित करते थे। चारों से परेशान होकर उसने 27 अप्रैल की रात जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया था। विषपान करने से पहले उसने तीन पन्ने का सुसाइड नोट लिखा था। जिसमें सुनील सोनी, रोशनी सोनी, राजेश पटेल व पूजा पटेल को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया था। मर्ग जांच उपरांत पुलिस ने चारों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली है।

भोलक घाट के जंगल में आबाद थी कच्ची शराब की फैक्ट्री

गधेरी के भोलक घाट जंगल में आबाद कच्ची शराब की फैक्ट्री को पुलिस ने ध्वस्त कर दिया। इस दौरान 26 ड्रमों में भरा पांच हजार 200 लीटर लाहन व चार भटि्टयों को नष्ट किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर प्रदीप कुमार शेंडे ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि खमरिया थाना क्षेत्र में गौर नदी के किनारे भोलक घाट के जंगल में कच्ची शराब बनाई जा रही है। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस बल ने जंगल में दबिश दी। जहां शराब बनाने वाले तस्कर ड्रम व भटि्टयां छोड़कर जंगल में भाग गए। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। एएसपी ने बताया कि नष्ट किए गए लाहन से करीब दो हजार लीटर कच्ची शराब बनाई जा सकती थी।

घरेलू गैस सिलिंडर से वाहनों में भर रहे थे गैस

घरेलू गैस सिलिंडर से वाहनों में गैस भरी जा रही थी। क्राइम ब्रांच व गोराबाजार पुलिस की संयुक्त टीम ने बिलहरी में खंदारी नाला के पास दबिश दी। जहां अवैध रूप से गैस की रिफलिंग करने वाले सुरेंद्र खटीक 40 वर्ष निवासी बडी़ खेरमाई के पास हनुमानताल को गिरफ्तार कर लिया गया। गोराबाजार थाना प्रभारी सहदेव राम साहू ने बताया कि इस दौरान सात घरेलू गैस सिलिंडर, एक इलेक्ट्रानिक तराजू, विद्युत मोटर तथा एक हजार 130 रुपये जब्त किए गए। सुरेंद्र टीन के टपरे में अवैध कार्य कर रहा था।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close