जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। राजस्व के लंबित प्रकरणों को निपटाने के लिए ना सिर्फ अब प्रशासनिक व्यवस्था बेहतर की जाएगा, बल्कि राजस्व विभाग तक आने वाले आवेदक की समस्याओं का समाधान करने पटवारियों को भी खास प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने कहा है कि लंबित पत्रों का जल्द से जल्द समाधान करने और बकायेदारों से वसूली करने के लिए पटवारी को खास प्रशिक्षण दिया जाएगा। दरअसल सीएम हेल्पलाइन से जुड़े प्रकरणों का समाधान करने में जबलपुर प्रदेश में दूसरे पायदान पर है। अब सीधे तौर पर कलेक्टर ने राजस्व की उन प्रकरणों को समाधान करने पर जोर दिया है, जो सालों से लंबित हैं। यही वजह है कि इन दिनों राजस्व विभाग से जुड़े हर अधिकारी और कर्मचारी के साथ समीक्षा बैठक हो रही है।

राजस्व विभाग से जुड़ी विभिन्न योजना की रफ्तार बढ़ाने के लिए राजस्व निरीक्षक एवं पटवारियों को भी इसकी प्रक्रिया से जोड़ने के निर्देश दिए। अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को नियमित तौर पर इस योजना की प्रगति की समीक्षा करने कहा। इतना ही नहीं राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए उन्होंने बड़े बकायादारों से राजस्व वसूली में सख्ती बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

बकायेदारों की तैयार हो रही लिस्ट : राजस्व विभाग की बकायेदारों से वसूली करने के लिए उनकी संपत्ति कुर्क करने की तैयारी शुरू हो गई है। राजस्व अधिकारियों को निर्देश दे दिए हैं कि वसूली के लिए जरूरी हो तो ऐसे बकायादारों की संपत्ति कुर्क करने की कार्यवाही की जाये। विभाग केंद्र में ऐसे बकायेदारों की लिस्ट बना रहा है, जो लंबे समय से विभाग को राजस्व देने से बच रहे हैं।

योजना की रफ्तार ना पड़े सुस्त : कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने राजस्व अधिकारियों से कहा है कि को दिए। मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना से लेकर स्वामित्व योजना, धारणाधिकार योजना एवं राजस्व अभिलेखों के शुद्धिकरण अभियान की समीक्षा करें। जिन योजनाओं में सुस्ती से काम किया जा रहा है, उनके जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की भी तैयारी शुरू कर दी गई है।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local