जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। एक महीने पहले पति के सामने कुछ लोगाें द्वारा अगवा कर ली गई, एक विवाहिता को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के निर्देश पर कटनी जिले की पुलिस ने रिकवर कर उसके पति के हवाले कर दिया। विवाहिता को जबलपुर एसपी कार्यालय में लाया गया।

बताया जाता है कि बड़ा पत्थर में रहने वाले पारख मेहरा की पत्नी रश्मि सिंह ठाकुर कटनी जिले के बाकल थाना क्षेत्र स्थित शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक शाला में शिक्षिका हैं। पारख के मुताबिक वो अप्रैल में अपनी पत्नी के पास बाकल गया था। इसी दौरान 18 अप्रैल को अज्ञात लोगों उसकी पत्नी काे बलपूर्वक अगवा कर लिया था। पारख ने इस घटना की शिकायत बाकल थाने में दर्ज कराई। जब वहां से कोई मदद नहीं मिल तो वो कटनी एसपी के समक्ष भी हाजिर हुआ, लेकिन वहां से भी किसी प्रकार की राहत नहीं मिलने पर पारख ने अधिवक्ता हरीश शिहोटे के माध्यम से उच्च न्यायालय मेंं याचिका लगाई। जिस पर 10 मई को न्यायाधीश विशाल धगट ने बाकल पुलिस को निर्देशित किया कि वो अपहृत युवती का पता लगाकर फरियादी पति को सौंपे। साथ ही न्यायालय ने कहा कि जिन लोगोें ने रश्मि सिंह का अपहरण किया, उनका पता लगाकर उनके विरूद्ध एफआइआर दर्ज की जाए।

किया गया पति के हवाले

उच्च न्यायालय से मिले निर्देशों का पालन करते हुए बाकल पुलिस ने पहले रश्मि सिंह की खोजबीन की और उसका पता चलने के बाद उसे उसके पति पारख के सुपुर्द कर दिया। सुपुर्दगी की इस कार्रवाई को जबलपुर के पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर में अंजाम दिया गया।

फौजी के घर में चोरी

बेलबाग थाना क्षेत्र में एक फौजी के सूने घर काे निशाना बनाकर चोरों ने वहां से गृहस्थी का सामान चोरी कर लिया। पुलिस ने मंगलवार रात मामले में रिपोर्ट दर्ज की। पुलिस ने बताया कि सीएमएस कंपाउंड निवासी सैमसन नवीन हिवाले सीएमएस कलकत्ता बैरकपुर में सेना में पदस्थ है। 14 नवम्बर 2021 को वह परिवार समेत बैरकपुर चला गया था। उसके घर में ताला लगा था। इसी दौरान अज्ञात चोर उसके घर के वेन्टीलेटर काे तोड़कर अंदर घुसे और गृहस्थी का सामान ले उड़े। मंगलवार रात जब सैमसन वापस लौटा, तब उसे घटना की जानकारी लगी।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close