जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रांझी संभाग के अंतर्गत आने वाले मानेगांव के नानक नगर के एक तालाबनुमा गड्ढे में डेरा डाल चुके मगरमच्छ को अब तक नहीं पकड़ा जा सका है। जिससे नागरिकों में दहशत बढ़ती जा रही है। वन विभाग की रेस्क्यू टीम मगरमच्छ का रेस्क्यू करने में जुटी है लेकिन अब तक सफलता नहीं मिली है। अब रेस्क्यू टीम अपनी रणनीति में बदलाव कर गड्ढे का पानी निकाल कर पिंजरा लगाने की तैयारी कर रही है।

सूकर, श्वान, मुर्गियों को बना रहा निवाला: क्षेत्रीय नागरिकों के मुताबिक नानक नगर के तालाबनुमा गड्ढे में मगरमच्छ पिछले करीब दो सप्ताह से डेरा जमाए हुए है। कई लोगों ने उसे धूप सेंकते भी देखा है। नागरिकों की माने तो मगरमच्छ गड्ढे के आस-पास विचरण करने वाले सूकर, श्वान और मुर्गियों को अपना निवाला बना रहा है, जिससे क्षेत्रीय नागरिकों में दहशत बढ़ गई है। वे अपने बच्चों को खेलने के लिए भी बाहर नहीं निकलने दे रहे हैं।

पिंजरा लगाया, जाल बिछाया नहीं आया पकड़ में: क्षेत्रीय जनों की सूचना पर वन विभाग के रेस्क्यू दल ने मगरमच्छ को पकड़ने के लिए जाल बिछाया है, पिंजरा भी लगाया है। लेकिन मगरमच्छ उसमें फंस ही नही रहा। बताया जाता है कि रविवार को पिंजरे में एक श्वान फंस गया। लिहाजा सोमवार काे पिंजरा निकाल कर अब दूसरे स्थान पर लगाया गया है। इसी के साथ तालाबनुमा गड्ढे के पानी को निकालने की तैयारी भी की जा रही है। ताकि पानी कम होने पर मगरमच्छ को आसानी से पकड़ा जा सके।

---

मानेगांव नानक नगर में मगरमच्छ की सूचना मिलने पर रेस्क्यू किया जा रहा है। गड्ढे में पानी होने के कारण सफलता नहीं मिल रही। अब पानी निकाल कर पिंजरा लगाने की तैयारी की जा रही है।

अंजना सुचिता तिर्की, डीएफओ

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local