जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पिछले कई साल बाद पुष्य नक्षत्र का श्रेष्ठ मुहुर्त गुरुवार को है। जिस दिन शुभ कार्य करना उत्तम है, काेरोना के बाद ऐसे मुर्हूत पर हर कोई दीपावली के पहले लेनदेन करने की तैयारी में है। उम्मीद है कि जिस ढंग से सरकार से सरकारी कर्मियों को वेतन डीए में इजाफा किया है उसका असर बाजार में भी दिखेगा।व्यापारियों को उम्मीद है कि जबलपुर में 400 करोड़ रुपये के पार जाएगा। इसमें रियल इस्टेट, ज्वैलरी, आटोमोबाइल्स, लाइफ स्टाइल समेत हर क्षेत्र को शामिल किया गया है।

चैंबर आफ कामर्स के अध्यक्ष रवि गुप्ता की माने तो रियल इस्टेट पिछले लंबे समय से ठंडा पड़ा हुआ था। अब मुर्हूत के साथ लोगों की जेब में पैसा भी आ गया है ऐसे में बाजार में रौनक लौटने की पूरी उम्मीद है। हर कोई बाजार में खरीददारी करने की योजना बना रहा है। कोरोना महामारी की वजह से करीब दो साल से कामकाज ठप बना हुआ है। ऐसे में छोटे से लेकर बड़ा वर्ग भी अपने पसंद का नया कार्य इस दिन करने की योजना बना रहा है।

बता दें कि शुभ दिन के लिए अग्रिम रजिस्ट्री के लिए बुकिंग करवाई गई है जिनके स्लॉट बुक नहीं हुए है उन्होंने अग्रिम लेनदेन का करार कर नेग करने की तैयारी की है। कई ग्राहकों ने रियल इस्टेट में बुकिंग के लिए इस दिन का चयन किया है। बिल्डर भी इसके लिए खास आफर निकाल चुके हैं।

ज्वैलरी के क्षेत्र में पिछले कुछ सालों से ज्यादा रूझान ग्राहकों का बना हुआ है। सोने को मुश्किल समय में अधिक भरोसेमंद मानकर लोग इसमें इनवेस्ट करने लगे हैं। ऐसा ही कुछ आटोमोबाइल इंडस्ट्री में माहौल है। बुकिंग के लिए बुधवार को भी शो रूम में भीड़ लगी रही। कई इस दिन ही डिलेवरी के लिए एडवांस राशि देने पर अमादा है। कई वाहनों के माडल की कमी बन गई है इसके लिए अग्रिम बुकिंग हो रही है। दो पहिया वाहन से लेकर चार पहिया वाहनों को लेकर अच्छा रूझान है। कई ग्राहक तो ऐसे है जिन्होंने बुकिंग राशि देकर डिलेवरी दीपावली पर करने का मन बनाया है।

लाइफ स्टाइल पर चमक: त्योहार से पहले घर को सजाने के लिए इस साल बाजार को उम्मीद अधिक है। व्यापारियों का कहना है कि कोरोना महामारी के बीच घर में कैद रहकर लोग परेशान हो गए। उन्हें अब घर में बदलाव की जरूरत महसूस हो रही है ऐसे में फर्नीचर,मेटल आइटम,ग्राशरी के आइटम खास होंगे।

रेडीमेड गारमेंट का बाजार गर्म: जबलपुर में रेडीमेड गारमेंट का बड़ा बाजार है। यहां के बने सलवार सूट कई शहर और प्रदेश में सप्लाई होते हैं। व्यापारियों की माने तो 50-70 करोड़ रुपये से ज्यादा का कारोबार सिर्फ इस क्षेत्र में होगा।

300 स्लाट बुक: शुभ मुर्हूत पर घर-जमीन खरीदने के लिए जिला पंजीयक कार्यालय में 300 से ज्यादा स्लॉट बुक हो चुके थे। विभागीय स्तर पर बताया गया कि देर रात 12 बजे तक स्लॉट बुक किए जा रहे थे।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local