जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सड़क हादसों की रोकथाम के लिए यातायात पुलिस द्वारा जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस अधिकारी महाराष्ट्र उच्चतर माध्यमिक तथा शासकीय प्राथमिक शाला लम्हेटा पहुंचे। जहां छात्र-छात्राओं को यातायात संकेतक दिखाकर उनका महत्व बताया गया। महाराष्ट्र विद्यालय में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल ने यातायात नियमों की जानकारी दी। सूबेदार मोहन सिंह, रोशनी केशरवानी ने उन्हें सुरक्षित आवागमन के उपाय बताए। गलत दिशा में चलना, सीट बेल्ट का उपयोग न करना जैसी गलतियां कितनी भारी पड़ती हैं इसे उदाहरण देकर समझाया गया।

इस दौरान विद्यार्थियों से यातायात नियमों से संबंधित प्रश्न पूछे गए। सही जवाब देने वालों को मौके पर ही पुरस्कृत किया गया। लम्हेटा विद्यालय में यातायात निरीक्षक पल्लवी पांडेय ने विद्यार्थियों काे यातायात नियमों का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि वाहनों की तेज रफ्तार, नशे की हालत में वाहन चलाना जैसे तमाम कारण सड़क हादसों के लिए जिम्मेदार हैं। यातायात नियमों के प्रति जागरुक न रहने वाले भी हादसों का शिकार होते हैं। इसलिए सड़क पर चलते समय यातायात नियमों का पूरी तरह पालन किया जाना आवश्यक है।

चौकन्नी रही पुलिस: अयोध्या में बाबरी मंदिर के विवादित ढांचे को गिराए जाने की बरसी पर पुलिस चौकन्नी रही। इंटरनेट मीडिया पर पिछले कई दिनों से उपद्रवियों द्वारा की जा रही आपत्तिजनक पोस्ट के कारण संवेदनशील क्षेत्रों में पहरा बढ़ाया गया। पुलिस अधिकारी व जवान पूरी रात संवेदनशील क्षेत्रों का जायजा लेते रहे। सोमवार को सुबह से ही संवेदनशील क्षेत्रों व धर्मस्थलों में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। हालांकि हालात सामान्य रहे। पुलिस अधिकारियों ने इंटरनेट मीडिया पर भेजे गए आपत्तिजनक पोस्ट को गंभीरता से लिया है। सायबर सेल की टीम उपद्रवियों का पता लगाने में जुट गई है।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close