जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मिट्टी से निर्मित शिवलिंग के विसर्जन के दौरान तालाबनुमा गड्ढे में डूबने से दो सगी बहनों की मौत हो गई। ह्दय विदारक घटना से ग्राम करहैया उड़ना पाटन में मातम छा गया है। पोस्टमार्टम उपरांत सगी बहनों के शव स्वजन को सौंप दिए गए। पाटन थाना प्रभारी आसिफ इकबाल ने बताया कि करहैया उड़ना भुवानी बाई लोधी 63 वर्ष ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। भुवानी अपनी बहू आरती, नातिन नेहा 17 वर्ष तथा निधि लोधी 13 वर्ष के साथ शिवलिंग विसर्जन के लिए गांव के बाहर खेतों में बने तालाबनुमा गड्ढे में गई थी। अवैध खनन के कारण बने गड्ढे में बरसात का पानी जमा है। शिवलिंग विसर्जन के दौरान दोनों बहनें नेहा व निधि गड्ढे में स्नान करने की जिद कर रही थीं। भुवानी ने उन्हें गड्ढे के पानी में उतरने से रोका। इसके बाद शिवलिंग विसर्जन के दौरान नेहा व निधि गड्ढे में गिर पड़ीं। गहराई होने के कारण दोनों चीखने चिल्लाने लगीं। नेहा व निधि की जान बचाने के लिए भुवानी व आरती ने भी चीखना चिल्लाना शुरू किया, उनकी आवाज सुनकर गांव के बिरसन लोधी वहां पहुंचे। गड्ढे में उतरकर उन्होंने नेहा को बाहर निकाला। उस समय नेहा की सासें चल रही थीं।

बिरसन ने आरती की तलाश शुरू की। कुछ देर बाद गड्ढे के पानी में डूबी आरती को भी बाहर निकाल लिया गया। नेहा व आरती को उपचार के लिए शासकीय अस्पताल पाटन ले जाया गया। निधि को मृत घोषित करते हुए चिकित्सकों ने आरती को नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज अस्पताल रेफर कर दिया। जहां कुछ घंटे चले उपचार के बाद उसकी भी मौत हो गई। पाटन थाना प्रभारी आसिफ इकबाल ने बताया कि मर्ग कायम कर विवेचना की जा रही है।

ट्रेन से कटे युवक की मौत-

ट्रेन से कटने के कारण एक अज्ञात युवक की मौत हो गई। उसका शव खितौला के पास रेलवे पटरी पर मिला। प्रत्यक्षदर्शियों की सूचना पर 108 एम्बुलेंस मौके पर पहुंची। ट्रेन से कटे युवक को शासकीय अस्पताल सिहोरा ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए पुलिस मृतक की शिनाख्त कर रही है।

कानपुर से मजदूरी करने आए युवक की ढाबे में मौत-

आचार्य नगर थाना रायपुरवा जिला कानपुर उत्तर प्रदेश निवासी अजय कुमार त्रिपाठी 49 वर्ष की तिलवारा बायपास स्थित ढाबे में मौत हो गई। तिलवारा पुलिस ने बताया कि अजय करीब तीन साल से आलीशान ढाबा में रहकर मजदूरी करता था। वह अत्यधिक मात्रा में शराब का सेवन करता था। कुछ दिन से बुखार व दस्त की चपेट में था। शारीरिक कमजोरी के कारण अजय को चक्कर आया और वह ढाबा में गिर पड़ा। उसे मेडिकल कालेज अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। ढाबा का संचालन कालीमठ आमनपुर निवासी सतीश कुकरेजा द्वारा किया जाता है। इधर, तिलवारा क्षेत्र में ही घाना नहर के समीप निवासी नाजिया 22 वर्ष की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। वह कुछ दिनों से पीलिया बीमारी की चपेट में थी।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close