जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। हलो सर, मैं....बाेल रहा हूं। मेरे पड़ोस में रहने वाली अम्मा बहुत बीमार हैं। घर पर कोई नहीं है...। मोबाइल पर इस आशय की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा हरकत में आए, जिसके बाद 80 साल की वृद्धा को अस्पताल में भर्ती कराया जा सका। जानकारी के मुताबिक एक व्यक्ति ने पुलिस अधीक्षक से मोबाइल पर संपर्क किया। उसने बताया कि बदनपुर निवासी शकुन संस्कार 80 वर्ष अपने घर में गिर पड़ी थीं। इसके बाद से वे काफी बीमार चल रही हैं। चलने फिरने में असमर्थ हैं। उनका बेटा मजदूरी करता है। इस समय उनकी हालत खराब है परंतु घर पर कोई मौजूद नहीं है। पुलिस अधीक्षक ने गढ़ा थाना प्रभारी राकेश तिवारी को मौके पर भेजा। थाना प्रभारी ने वृद्धा को निजी एंबुलेंस से मेडिकल कालेज अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया।

नगर निगम के स्वास्थ्य निरीक्षक से मारपीट-

नगर निगम के स्वास्थ्य निरीक्षक संतोष कुमार गौर 39 वर्ष के साथ अल्ट्राक्लीन एंड केयर सर्विस के सुपरवाईजर ने मारपीट कर दी। उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गई। लार्डगंज पुलिस ने बताया कि स्वास्थ्य निरीक्षक गौर सोमवार को बल्देवबाग स्थित कम्पोज्ड प्लांट का निरीक्षण करने गए थे। निरीक्षण के दौरान अल्ट्राक्लीन एंड केयर सर्विस के सुपरवाईजर एवं अन्य कर्मचारियों को ठीक से कार्य करने की उन्होंने सलाह दी। तभी सुपरवाईजर राजेंद्र तिवारी उत्तेजित होकर उन्हें अपशब्द कहने लगा। गौर ने अपशब्द कहने से रोका तो राजेंद्र ने मारपीट करते हुए जान से मारने की धमकी दी। एफआइआर दर्ज कर पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

शराब पीने पैसे न मिलने पर दांत तोड़ा-

शराब पीने के लिए 500 रुपये नहीं मिलने पर सिरफिरे ने एक युवक का दांत तोड़ दिया। खमरिया थाने में संतोष चक्रवर्ती 30 वर्ष निवासी मरघटाई मोहल्ला सोनपुर ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने बताया कि घटना के समय संतोष अपने घर जा रहा था। तभी पड़ोस में रहने वाले अम्मू चौधरी ने उसे रोक लिया और शराब पीने के लिए पैसे मांगे। संतोष ने पैसे देने से इंकार कर दिया। जिससे नाराज होकर अम्मू ने उस पर लाठी से हमला कर दिया। संतोष पर ईंट बरसाए जिससे उसका एक दांत टूट गया। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close