जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बसों और ट्रक के लाखों रुपये टैक्स बकाया वाले वाहनों की सूची तैयार की जा रही है। इसमें आरटीओ के निर्देश पर बसों की सूची तैयार की गई और अचानक बाइपासों में चेकिंग लगा दी गई। चेकिंग के दौरान बस चालकों को रोककर उनसे पूछताछ की गई, जिसमें तीन बसें ऐसी मिली, जिसमें लाखों रुपये का टैक्स बकाया था और वह सड़कों में दौड़ रही थी। तीनों बसों को जब्त कर कार्रवाई की जा रही है।

आरटीओ संतोष पाल ने बताया कि शहर में ऐसी कई बसें और ट्रक है, जिनके लाखों रुपये के टैक्स बकाया है, लेकिन उनके संचालक टैक्स जमा नहीं कर रहे और सड़कों में वाहनों को दौड़ा रहे है। इसके लिए सूची बनाकर कार्रवाई के लिए टीम गठित की गई थी। टीम ने गोसलपुर और पाटन बाइपास में चेकिंग अभियान चलाया।

12 से अधिक बसों की जांच: चेकिंग के दौरान लगभग 12 से अधिक बसों की जांच की गई। इसमें कुछ के टैक्स कम थे, जिसके संचालकों ने तत्काल ही टैक्स जमा कर दिया। वहीं जिनके लाखों रुपये टैक्स बकाया था ऐसी तीन बसें मिली। जिन बसों को जब्त कर संचालकों को बकाया टैक्स जमा करने की हिदायद दी है।

बस क्रमांक एमपी-21 पी 0322 संचालक प्रकाश गुप्ता बस स्टेंड बहोरीबंद की है। बस का 1 लाख 89 हजार 145 रुपये टैक्स बाकि था। बस को जब्त कर गोसलपुर थाने में खड़ा कराया गया है।

बस क्रमांक सीजी 07 ई 6012 संचालक वीरेन्द्र कुमार चौरसिया की है। बस का 1 लाख 1 हजार 954 रुपये टैक्स बकाया था। बस को जब्त करके आरटीओ कार्यालय में खड़ा कराया गया है।

बस क्रमांक एमपी-20 पीए 1217 संचालक मित्रबंधन शर्मा की है। बस का 51 हजार 908 रुपये टैक्स बकाया था। बस को जब्त कर आरटीओ कार्यालय में खड़ा किया गया है।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local