जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे ने ट्रेन में सफर के दौरान यात्रियों को होने वाली समस्या की समीक्षा शुरू कर दी है। इसके लिए हर मंडल के आला अधिकारियों को इसकी जिम्मेदारी सौंपी है। इन अधिकारियों को ट्रेन में सफर कर यात्रियों को होने वाली परेशानियों को देखना, उसका समाधान करना है। इसकी पहल जबलपुर रेल मंडल में शुरू हो गई है। जबलपुर रेल मंडल के कमर्शियल विभाग के मुखिया सीनियर डीसीएम विश्वरंजन ने अपनी टीम के साथ जबलपुर से पिपरिया के बीच ट्रेन में सफर किया। वे सुबह जबलपुर से पवन एक्सप्रेस से पिपरिया के लिए रवाना हुए। इस दौरान उन्होंने स्लीपर, एसी कोच में यात्रा करने वाले यात्रियों को हाेने वाली समस्याओं की समीक्षा की। ट्रेन में औचक निरीक्षण करने पहुंचे सीनियर डीसीएम को देख टिकट जांच दल और अन्य कर्मचारी चौक गए। इन अधिकारियों को सीनियर डीसीएम ने यात्रियों के साथ बेहतर समंवय बनाने और उनकी समस्याओं का समाधान करने पर जोर देने कहा।

बाथरूम से लेकर सफाई तक नजर

जबलपुर से पवन एक्सप्रेस में सवार होकर सीनियर डीसीएम ने स्लीपर आैर एसी कोच में जाकर यात्री सुविधा को परखा। इस दौरान कोच की बाथरूम की सफाई को देखा। उन्हें कई कोच में बाथरूम साफ मिले तो कई में गंदे मिले। इस दौरान सीनियर डीसीएम की टीम ने तत्काल जिम्मेदारी अधिकारी और कर्मचारियों को इसकी जानकारी देकर व्यवस्थाएं बेहतर कराई। जांच के दौरान ट्रेन की सफाई व्यवस्था को भी देखा गया। कोच में गंदगी मिलने पर जिम्मेदारों को फटकार भी लगाई। इधर कई कोच में बेहतर सफाई मिलने पर जिम्मेदारों को शबासी भी मिली।

पिपरियां स्टेशन का किया निरीक्षण

ट्रेन के साथ-साथ रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को मिलने वाली सुविधाओं का भी जायजा लिया। सीनियर डीसीएम विश्वरंजन अपनी टीम के साथ पिपरिया रेलवे स्टेशन पहुंचे। रविवार होने की वजह से अधिकांश कर्मचारी अवकाश पर रहते हैं, लेकिन जैसे ही सीनियर डीसीएम के आने की खबर लगी, अधिकांश आनन-फानन में मौके पर आ पहुंचे। इस दौरान स्टेशन पर यात्री सुविधा से जुड़ी पीने के पानी, बैठने की सुविधा से लेकर वेटिंग रूम को देखा गया। लौटते समय जांच टीम ने अमरकंटक एक्सप्रेस में यात्रियों की सुविधा को परखा।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close