जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे की ओर से मेंटेनेंस के काम खूब करवाए जा रहे हैं, लेकिन खामियां हैं कि थमने का नाम नहीं ले रहीं। मंगलवार की सुबह भी ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला ठीक प्लेटफार्म से पहले मुख्य यार्ड मास्टर कार्यालय के पास। यहां करीब 15 मिनट तक 12182 डाउन दयोदया एक्सप्रेस को अटकी रहना पड़ा। इस गाड़ी ने अपना अंतिम दो फर्लांग का सफर 18 मिनट में तय किया। बताया जाता है कि यहां इंटरलाकिंग की गड़बड़ी के चलते अचानक सिग्नल ने काम करना बंद कर दिया। मौके पर मौजूद रहे रेलवे के ही कर्मचारियों ने बताया कि अचानक सिग्नल के काम करना बंद करने की वजह से यह गड़बड़ी आई।

गाड़ी को सीवाईएम आफिस से प्लेटफार्म क्रमांक-5 तक ले जाने के लिए काशन-आर्डर और अर्थारिटी का सहारा लेना पड़ा। ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों का कहना रहा कि सिग्नल खराब हो जाने की वजह से उनकी स्थिति आसमान से गिरे खजूर में अटके जैसी हो गई। ट्रेन इस खामी के वक्त तक प्लेटफार्म के मुहाने तक पहुंच चुकी थी, इसलिए बड़ी संख्या में यात्री पटरियों को पार करते हुए पैदल ही प्लेटफार्म की ओर चल पड़े।

सभी प्लेटफार्म रहे ब्लाक: प्लेटफार्म से ठीक पहले दयोदया एक्सप्रेस के अटकने की वजह से कटनी की ओर से आने वाली कोई भी गाड़ी प्लेटफार्म पर नहीं पाई। दयोदया के ठीक पीछे चल रही 22190 रीवा-जबलपुर इंटरसिटी भी इसकी वजह से लेट हुई। इसी तरह स्टेशन के किसी भी प्लेटफार्म से कटनी की ओर गाड़ियों को रवाना किया जा पाना भी बाधित रहा।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local