जबलपुर। शहर की विभिन्न संस्थाओं में बहनों ने भाइयों की कलाइयों पर राखी बांधी। इस दौरान भाइयों का मुंह मीठा कराया गया। रूमाल सिर पर रखकर तिलक लगाया और आरती उतारी। भाइयों ने बहनों को उपहार दिए। राजनीतिक दलों, सामाजिक व सांस्कृतिक संगठनों में रक्षाबंधन का त्योहार हर वर्ष इसी तरह मनाया जाता है।

भद्रा के कारण इस बार राखी विशेष रूप से मुर्हूत के आधार पर मनाई गई। ज्योतिष की सलाह ली गई। पंडित-पुरोहितों से पूछ-परख के बाद ही राखी बांधी गई। बहनें अपने भाईयों को राखी बांधकर बेहद प्रसन्न हुईं। भाइयों ने उपहार दिए। बहनों ने मुंह मीठा कराया। इस बार राखी पर दुकानों में बिक्री का क्रम अनवरत चला। राखी की वैराइटी भी गजब की बाजार में आई। रूमाल भी तरह-तरह के नजर आए।

महापौर व पार्षदों के कार्यालय में भीड़ : महापौर व पार्षद के कार्यालयों में भीड़ नजर आई। यहां से ग्रुप निकलकर बहनों के बीच पहुंचे। जहां राखी बंधवाई गई। इस तरह इस बार का रक्षाबंधन यादगार बन गया। कोविड के बाद यह त्यौहार अधिक उत्साह के साथ मनाया गया।

बाल निकेतन :

भाई बहन का पवित्र पर्व रक्षाबंधन पर धीरज पटैरिया के नेतृत्व में तरुण शक्ति संगठन के सदस्यों ने राजकुमारी बाई बालनिकेतन में रक्षा बंधन का पर्व मनाया। सभी बच्चियों ने तरुण शक्ति के भाइयों को रक्षा सूत्र बांधा और सभी सदस्यों ने उपहार देकर निकेतन की बहिनों से आशीर्वाद लिया। विगत 25 वर्षों से धीरज पटैरिया रक्षा बंधन का पर्व राजकुमारी बाई बाल निकेतन की बहनों के बीच अपने साथियों के साथ मनाते आ रहे हैं। निकेतन की सभी बहिनों को भी इस दिन का इंतजार रहता हैं कि धीरज भैया के साथ रक्षा बंधन का पर्व मनाएंगे। रक्षा बंधन के इस कार्यक्रम में धीरज पटैरिया, श्याम सिंह ठाकुर, मुकेश पटैल, बब्लू जायसवाल, अनिल सोनी, संतोष उपाध्याय, डब्बू पांडेय, मनदीप द्वीवेदी, महेंद्र पांडेय, बब्लू, प्रवीण पटैल, दीपक पांडेय, आशीष साहू, गप्पू ठाकुर, गौरव गोस्वामी सहित अन्य शामिल हुए।

Posted By: tarunendra chauhan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close