Jabalpur News : जबलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अगस्त 2022 के बाद यह पांचवीं बार हुआ जब पुलिस अधीक्षक ने सार्वजनिक तौर पर एक एएसआइ को सैल्यूट किया। खुली गाड़ी में एसपी को एएसआइ के पीछे खड़े होना पड़ा। प्रशासन व पुलिस के आला अधिकारी एएसआइ को मुख्यमंत्री की तरह तवज्जो दे रहे थे। एएसआइ ने परेड का निरीक्षण किया। परेड की सलामी भी ली।

यह द्श्य हैं गैरिसन मैदान के जहां गणतंत्र दिवस समारोह के लिए अंतिम रिहर्सल की जा रही थी। फुल ड्रेस रिहर्सल में पुलिस लाइन में पदस्थ एएसआइ धरमू सिंह ने मुख्यमंत्री की भूमिका निभाई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 26 जनवरी को गैरीसन मैदान में ध्वजारोहण करेंगे। अंतिम रिहर्सल परेड में धरमू प्रसाद ने प्रतीकात्मक मुख्य अतिथि के रूप में परेड की सलामी ली। इस दौरान छठवीं बटालियन के बैंड दल ने राष्ट्रभक्ति से ओतप्रोत धुन बजाए। मुख्यमंत्री बने धरमू का काफिला जैसे ही गैरीसन मैदान पहुंचा एडीजी, डीआइजी, कलेक्टर, एसपी, समेत तमाम अधिकारियों ने उसकी आगवानी की। जिसके बाद एएसआइ धरमू ने परेड का निरीक्षण किया। ध्यवजारोहण के बाद शांति का प्रतीक सफेद गुब्बारे हवा में छोड़े। सशस्त्र बल के जवानों ने हर्ष फायर किया।

नवंबर में विभाग से विदाई-

एएसआइ धरमू ने कहा कि नवंबर में वे सेवानिवृत्त हो रहे हैं। करीब 34 वर्ष की सेवा में पुलिस विभाग में उन्हें बहुत मान सम्मान मिला। 26 जनवरी व 15 अगस्त की रिहर्सल परेड में तीन साल से मुख्य अतिथि की भूमिका निभा रहे हैं। विभाग के आला अधिकारी सैल्यूट मारते हैं जो गर्व की बात है। सभी अधिकारी आइए सर, बैठिए सर.. कहते हैं तो सुनकर अच्छा लगता है। धरमू ने कहा कि विभाग में वह छोटे पद पर है। बड़े पद वाले अधिकारी उसे रिहर्सल परेड में जो मान सम्मान देते हैं उससे उसे गर्व महसूस होता है। धरमू ने कहा कि आगामी 15 अगस्त की रिहर्सल परेड में भी मुख्य अतिथि की छद्म भूमिका निभाना चाहते हैं।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close