अतुल शुक्ला, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर और ग्रामीण स्तर पर तैयार किए गए स्थानीय उत्पादों को अब रेलवे भी बढ़ावा देगा। इसके लिए रेल प्र'शासन स्थानीय कलाकारों को स्टेशनों पर उत्पाद प्रदर्शित करने और बेचने के लिए किराए पर स्टाल देगा। कलाकारों को 100 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से एक-एक स्टाल किराए पर दिया जाएगा। जबलपुर रेल मंडल में इसकी शुरुआत कर दी गई है। पहले चरण में मंडल के 12 मुख्य रेलवे स्टेशनों को चुना गया है। इनमें जबलपुर के अलावा कटनी, मैहर, सतना, रीवा, पिपरिया, नरसिंहपुर, गाडरवारा, करेली, दमोह, सागर, बांदकपुर स्टेशन शामिल हैं। खास यह है कि रेलवे स्थानीय कलाकारों को उत्पाद बेचने के लिए स्टेशन में स्टाल भी बनाकर देगा।

योजना बनाई, काम नहीं आई

रेलवे ने एक स्टेशन-एक योजना के तहत सभी स्टेशनों पर स्थानीय उत्पाद बेचने की योजना बनाई। स्थानीय कलाकार और उनके उत्पाद का चयन करने के लिए स्टेशन मास्टर, कमर्शियल इंस्पेक्टर को जिम्मेदारी दी गई। बड़े स्तर पर काम हुआ, लेकिन हर स्टेशन पर कलाकार और उत्पाद नहीं मिले। जिन स्टेशनों पर कलाकार और उत्पाद मिली भी, लेकिन वहां पर स्टाल लगाने का शुल्क और समय अधिक होने की वजह से किसी ने भी रेलवे की इस योजना को हिस्सा बनना नहीं चाहा। इसके बाद रेलवे ने एक माह या 15 दिन की बजाय एक दिन के लिए भी स्टाल देने की सुविधा देकर कलाकारों को राहत दी।

योजना में किया बड़ा बदलाव

पहले चरण में पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर, भोपाल और कोटा मंडल के प्रमुख स्टेशनों को लिया गया। यहां पर उत्पादों का चयन, शुल्क और नियम, यह तय करने का अधिकार कमर्शियल विभाग को दिया गया। जबलपुर मंडल के कमर्शियल विभाग के मुताबिक कलाकारों को एक दिन के लिए स्टेशन पर स्टाल मिलेंगे। यहां पर वे अपने स्थानीय उत्पाद को दिखा और बेच सकते हैं। हालांकि यह अवसर सिर्फ उन स्थानीय कलाकारों को मिलेगा, जिन्होंने अपने उत्पाद का मध्य प्रदेश हस्तशिल्प, सहकारी विभाग में पंजीयन कराया है। दोनों में से एक भी नहीं होने पर कलाकार के पास गरीब रेखा का कार्ड होना अनिवार्य है।

स्टाल का किराया पांच हजार तक

जबलपुर मंडल के प्रमुख रेलवे स्टेशन पर खाने-पीने के लगने वाले स्टाल का एक दिन का किराया पांच हजार रुपये तक है। रेलवे स्थानीय उत्पाद प्रदर्शित करने पर कलाकारों से 100 रुपये लेगा। कलाकार 15 दिन स्टाल लगाएगा तो उसे 15 सौ रुपये ही देना पड़ेंगे।

कमेटी करेगी चयन

स्थानीय कलाकारों द्वारा मंडल के 12 रेलवे स्टेशन पर उत्पाद बेचने के लिए रेलवे एक दिन के लिए भी स्टाल देगा, जिसका किराया 100 रुपये होगा। कलाकारों को स्टाल लगाने के लिए संबंधित स्टेशन के स्टेशन मास्टर, कामर्शियल इंस्पेक्टर को आवेदन करना होगा।

सुनील श्रीवास्तव, डीसीएम, कामर्शियल विभाग, जबलपुर रेल मंडल

Posted By: tarunendra chauhan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close