जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। महिलाओं की सुरक्षा व सम्मान का पाठ स्कूली शिक्षा से ही छात्रों को पढ़ाया जाए। सेफ सिटी अभियान के तहत कलेक्टर को एक छात्रा ने यह सुझाव दिया है। दरअसल, अभियान के अंतर्गत कलेक्टर कर्मवीर शर्मा संवाद कार्यक्रम की शुरुआत करने जा रहे हैं। संवाद से पूर्व छात्राओं व उनके अभिभावकों को उन्होंने सुझाव देने के लिए कलेक्ट्रेट में आमंत्रित किया था। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर रविवार को उन्होंने यह पहल शुरू की। कलेक्टर समाज के विभिन्न आयु वर्ग के लोगों से सीधा संवाद स्थापित कर महिलाओं व बेटियों को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए सुझाव प्राप्त करेंगे। रविवार को कार्यक्रम के दौरान मिले सुझाव पर अमल करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं।

स्कूल मार्गों पर ऑटो से परेशानी: संवाद के दौरान एक छात्रा कुमुद त्रिपाठी ने बताया कि अधारताल क्षेत्र में स्कूलों के आसपास मुख्य मार्गों पर ऑटो खड़े रहते हैं जिससे आवागमन में परेशानी होती है। एक अन्य छात्रा ने कहा कि महिलाओं व बेटियों की समस्या का निराकरण करने के लिए केयर बाय कलेक्टर योजना का फोन नंबर प्रचारित किया जाए। कलेक्टर शर्मा ने संवाद कार्यक्रम में छात्राओं और उनके अभिभावकों से प्राप्त सुझावों की सराहना की। उन्होंने बताया कि सेफ सिटी अभियान के तहत महिलाओं को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने समाज के सभी वर्गों से संवाद का यह कार्यक्रम निरंतर जारी रहेगा। वे खुद सामाजिक व व्यापारिक संगठनों, शिक्षकों, बुजुर्गों, युवाओं एवं प्रतिनिधिजनों से रूबरू होकर सुझाव प्राप्त करेंगे।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags