जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गोराबाजार क्षेत्र में पिंक सिटी में रेलवे में प्रोटोकॉल इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थ आदित्य सोनी के पिंक सिटी स्थित मकान में गुरुवार देर रात आग लग गई। देखते ही देखते आग इतनी भीषण हो गई कि किसी को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला और आग की लपटों में आदित्य की पत्नी, बहन और भांजी की मौत हो गई। वहीं किसी तरह से आदित्य और उसकी मां की जान बच गई। वहीं सूचना पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, विधायक अशोक रोहाणी, निगम कमिश्नर संदीप जीआर, एएसपी गोपाल खांडेल, सीएसपी भावना मरावी, सीएसपी आलोक शर्मा, टीआइ गोराबाजार, सिविल लाइन, कैंट, ग्वारीघाट बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले में जांच के निर्देश दिए।

दम घुटने से हुई मौत : पुलिस ने बताया कि आदित्य सोनी रेलवे में जीएम के प्रोटोकॉल इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थ हैं। वह अपनी मां अरुणाबाला सोनी 70 साल और पत्नी नेहा सोनी 32 साल के साथ पिंक सिटी में एक ड्यूप्लेक्स में रहते हैं। वहीं 10 दिन पहले आदित्य की बहन ऋतु सराफ 39 वर्ष अपनी बेटी परी 7 साल के साथ रहने आई थी। गुरुवार की रात लगभग 2.30 बजे सभी सो रहे थे। तभी मकान में आग लग गई। रितु और उसकी बेटी परी और आदित्य और उसकी पत्नी नेहा घर की पहली मंजिल के कमरों में सो रहे थे। वहीं उनकी मां अरुणाबाला नीचे हॉल में सो रही थी। अचानक आग की लपटें देखकर सभी की नींद खुली, लेकिन तब तक आग बढ़ चुकी थी, जिसके बाद सभी ने बचने की कोशिश की और लोगों को मदद के लिए आवाज दी। लेकिन जब तक फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया, नेहा, ऋतु और उसकी बेटी परी की दम घुटने और झुलसने से मौत हो चुकी थी।

भोपाल में रहती है ऋतु : बताया जा रहा है कि ऋतु अपने पति रत्नेश सराफ के साथ भोपाल में रहती है। वह कई साल से अपने मायके नहीं आई थी। 26 जुलाई को वह अपने मायके और अपने अन्य रिश्तेदारों के घर भी रुकने जाने वाली थी। वहीं आदित्य और उसकी मां अरुणाबाला को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local