जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जबलपुर से ही नहीं बल्कि यहां से होकर कई राज्यों को ट्रेन जाती है, लेकिन रायपुर के लिए अब भी सिर्फ एक ही ट्रेन है। जबकि मध्यप्रदेश से सटा हुआ छत्तीसगढ़ राज्य है। ऐसे में जबलपुर से बालाघाट होकर गोंदिया होते हुए रायपुर तक यात्री ट्रेन चलानी चाहिए। इस ट्रेन को बड़ी संख्या में यात्री मिलेंगी। अभी एक ही ट्रेन चलती है, उसमें भी आम दिनों में बमुश्किल से सीट मिलती है। यह बात मंडल रेल कार्यालय में गुरूवार को हुई मंडल रेल उपयोगकर्ता सलाहकार समिति के सदस्य डा. सुनील मिश्रा ने कहीं।

बैठक में जबलपुर के साथ ही डिंडौरी, मंडला, दमोह, कटनी, नरसिंहपुर, नैनपुर जिलें के समिति सदस्यों ने शिरक्त की। इस दौरान सभी सदस्यों ने अपने-अपने क्षेत्र में रेल सुविधाओं को सराहा और फिर उसमें और सुविधाएं बढ़ाने पर जोर दिया। इस दौरान सदस्यों ने कहा कि स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के कार्य ऐसे हो कि जबलपुर के नजदीकी जिलों की रेल सुविधा भी विकसित हो सके, पूरे महाकौशल क्षेत्र का विकास बढे।

डीआरएम संजय विश्वास ने समिति सदस्यों को मंडल द्वारा यात्री सुविधा के लिए किए जा रहे कार्यो की जानकारी दी। बैठक का संचालन करते हुए डीसीएम सुनील श्रीवास्तव ने किया। सदस्य निखिल अरूण देशकर ने कछपुरा रेलवे क्रासिंग को बंद कर रेल ओवर ब्रिज बनाने का सुझाव दिया। मनोरमा रतले ने ट्रेन के पायदान एवं प्लेटफार्म के बीच की दूरी कम करने की बात कही। कमल नयन काबरा ने गुड शेडो में लेबरो के लिए सुविधा बढ़ाने एवं पिपरिया के फुट ओवर ब्रिज को चौड़ा करने की बात रखी। अरुण सिंह पवार ने मदन महल क्षेत्र में वर्षा के पूर्व वृक्षारोपण करने एवं सभी गाडियों का हाल्ट मदन महल में देने का सुझाव दिया। पुष्प राज सिंह चौहान ने सिंगरोली इंटरसिटी को प्रारंभ करने, हरी शंकर शुक्ल ने स्टेशन पर बिकने वाली खाद्य सामग्री को ढक कर रखने एवं कटनी स्टेशन, बाहर सफाई दुरूस्त करने के साथ ही अतिक्रमण हटाने का सुझाव दिया। बैठक में एडीआरएम दीपक कुमार गुप्ता के साथ ही समिति सचिव एवं सीनियर डीसीएम विश्व रंजन मौजूद रहे।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close