जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर Jabalpur Health News । कोरोना से संक्रमित कई मरीज अपने घरों में आइसोलेशन में हैं। उन्हें कई दवाइयां भी दी जा रहीं हैं। जिससे तबियत में तो सुधार आ रहा है लेकिन कुछ लोगों को तेज दवाओं से पेट संबंधी परेशानियां हो रही हैं। इसके साथ हो कोरोना के कारण अत्यधिक कमजोरी के कारण भी लोग परेशान हैं। इसके लिए जरूरी है कि अपने आहार पर ध्यान दिया जाए। आहार और पोषण विशेषज्ञ स्मिता करन ने बताया कि इस संक्रमण से पूरी तरह बाहर आने में आहार की महत्वपूर्ण भूमिका है। कई सावधानियों के बावजूद जरा सी लापरवाही की वजह से यह वायरस लोगों के शरीर में पहुंचकर उन्हें संक्रमित कर रहा है। यदि आपके घर में भी कोई कोरोना वायरस से संक्रमित है तो उनके आहार में कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। जिससे संक्रमित व्यक्ति जल्दी ही पूरी तरह खतरे से सुरक्षित बाहर आ सकें।

हाई प्रोटीन: संक्रमण से सुरक्षा व फास्ट रिकवरी के लिए संक्रमित व्यक्ति के शरीर में प्रोटीन की रिक्वायरमेंट सामान्य से अधिक बढ़ जाती है। शरीर के वजन के अनुसार 1:5 ग्राम प्रोटीन प्रति किलोग्राम के हिसाब से लें। प्रोटीन के लिए डबल टोंड,दूध घर का ताजा बना दही केवल दिन में, पनीर, छेना साबुत दालें, अंकुरित मूंग, मूंग की दाल, बींस, मटर सोयाबीन, राजमा का इस्तेमाल कर सकते हैं।

हाई कार्बोहाइड्रेट: बुखार की वजह से संक्रमित व्यक्ति को बहुत अधिक थकान और कमजोरी हो जाती है इसके लिए भोजन में अधिक ऊर्जा पदार्थ प्रदान करने वाले सुपाच्य पदार्थ जैसे और ओट्स, सूजी की खीर, उत्तपम,उपमा, इडली, दलिया, सफेद रसगुल्ला व फलों के रस इत्यादि को सम्मिलित करें।

फल व सब्जियां: फल व सब्जियों में फाइबर, फोलेट मिनरल्स, एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन भरपूर मात्रा में होते हैं जो रिकवरी के लिए बहुत आवश्यक है।प्रतिदिन 400 ग्राम सब्जियां वह 200 ग्राम फल लें। संक्रमित व्यक्ति को हरी सब्जियां सूप व फलों में सेब, पपीता, खरबूज, संतरा, अनार, कीवी,अनानास, आंवला,अंगूर, स्ट्रॉबेरी व नीबू का उपयोग बदल बदल कर करना चाहिए।

एंटी ऑक्सीडेंट: संक्रमित व्यक्ति के शरीर की कोशिकाएं प्रभावी रूप से काम कर सकें इसके लिए एंटीऑक्सीडेंट के रूप में फलों व ड्राई फ्रूट यानी सूखे मेवे का इस्तेमाल करना चाहिए इससे सेलेनियम, जिंक, मैग्नीशियम व अन्य पोषक तत्वों की कमी पूरी हो जाती है इसके लिए भीगे बादाम, बादाम का दूध, नारियल का दूध, अखरोट, मुनक्का, कद्दू के बीज, मखाने का इस्तेमाल करें।

इम्यूनिटी बूस्टर: रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए घरों में प्रयोग किए जाने वाले मसाले जैसे तुलसी पत्ती लहसुन अदरक काली मिर्च सौंठ हल्दी पाउडर स्टार एनेज, दालचीनी, मुलैठी का प्रयोग करें एंटी बैक्टीरियल एंटी वायरल तत्व होते हैं जो कफ नाश करते हैं, रिकवरी को बढ़ाते हैं।

तरल पदार्थ: कोरोना से संक्रमित व्यक्ति के शरीर में पानी की कमी को पूरा करने के लिए वह शरीर से बाहर निकालने के लिये प्रतिदिन 3 लीटर गुनगुना पानी एवं 1 लीटर अजवाइन का पानी या नींबू का पानी या जीरे का पानी पीना आवश्यक है।

Posted By: Sunil Dahiya

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags