जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने बुधवार को मोबाइल फूड टेस्टिंग लैब के साथ पुराना बस स्टैंड, सिविक सेंटर चौपाटी एवं चौथा पुल क्षेत्र में खाद्य पदार्थों के विक्रय प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया। इसी दौरान दौरान चौथा पुल के समीप स्थित ला पिनोस पिज्जा रेस्टोरेंट के किचन एवं स्टोर का निरीक्षण भी किया गया। यहां एक्सपायरी डेट का 16 बोतल वनस्पति तेल पाया गया, जिसे मौके पर ही नष्ट करा दिया गया। किचन में साफ-सफाई नहीं पाए जाने पर सूचना सुधार नोटिस दिया गया है। नोटिस में चेतावनी दी गई है कि तीन दिवस में अपेक्षित सुधार नहीं पाए जाने पर रेस्टारेंट का लाइसेंस निरस्त कर दिया जाएगा। खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवकी सोनवानी ने बताया कि रेस्टोरेंट से पेप्सी एवं वनस्पति तेल के सेम्पल भी लिए गए। जिन्हें परीक्षण के लिए राज्य खाद्य प्रयोगशाला भोपाल भेजा जा रहा है।

अवैध री-फिलिंग सेन्टर पर छापा

घरेलू गैस सिलिंडरों के माध्यम से आटो में अवैध रूप से री-फिलिंग की जाती थी। इस सूचना पर मंगलवार को हनुमानताल थाना पुलिस ने मदार टेकरी में छापा मारा और वहां से री-फिलिंग सेन्टर संचालक समेत एक कर्मचारी व आटो में अवैध रूप से री-फिलिंग करा रहे आटो चालक को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से एक आटो, छह घरेलू गैस सिलिंडर, मशीन, चार हजार 40 रुपए नकद व अन्य सामान जब्त किया गया।

हनुमानताल पुलिस ने बताया कि बापूनगर में अवैध रूप से एलपीजी री-फिलिंग का सेन्टर चल रहा है। सूचना पर टीम ने वहां दबिश दी। पुलिस वहां पहुंची, तो देखा कि यात्री आटो एमपी 20 आर 3640 में अवैध रूप से री-फिलिंग की जा रही थी। पुलिस ने आटो जब्त कर चालक रांझी आदर्श धर्मशाला निवासी ऋषि नामदेव और अवैध रूप से रिफिलिंग कर रहे घमापुर चौक निवासी अंकित रौंतिया व सोनू सोनकर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ हनुमानताल थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close