जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर को बारिश में होने वाले जलप्लावन से बचाने के लिए नगर निगम ने मई माह में तैयारियां शुरू कर दीं। नाले-नालियों को गहरा और साफ किया। यहां तक की इस काम में बड़ी-बड़ी मशीनों की भी मदद ली गई। शाम सवा चार से पौने छह बजे तक डेढ़ घंटे में हुई 2.6 इंच बारिश ने नगर निगम की तैयारियों की ऐसी पोल खोली कि शहर का हर नागरिक उनकी तैयारियों को कोसता नजर आया। इधर मौसम विभाग के मुताबिक रात साढ़े आठ बजे तक शहर में साढ़े तीन इंच बारिश हुई। बारिश का यह आंकड़ा प्रदेश के अन्य शहरों की बारिश की तुलना में सर्वाधिक है।

शहर के निचले इलाके बारिश से प्रभावित हुए, वहीं सिविक सेंटर, नेपियर टाउन, राइट टाउन, गोरखपुर, गोलबाजार, बड़ा फुहारा जैसे मुख्य क्षेत्र जलमग्न हो गए। शहर के अधिकांश रिहायसी इलाकों में दो से तीन इंच तक पानी भर गया। इससे लोगों का गृहस्थी का सामान खराब हो गया। इधर बारिश से प्रभावित परेशान-हैरान लोगों ने मदद के लिए नगर निगम के कंट्रोल रूम और जिला प्रशासन के बाढ़ नियंत्रण पर फोन लगाए। किसी को समय पर मदद मिली तो कोई रातभर मदद आने का इंतजार करता रहा।

अलर्ट- तीन दिन रहें सावधान-

मौसम विभाग ने दावा किया है कि आने वाले दिन तीनों के दौरान जबलपुर में अच्छी बारिश होगी। ऐसे में शहरवासियों को यह सलाह दी गई है कि वह बारिश से बचने के सभी उपाय करें। घर में इमरजेंसी लाइट से लेकर अन्य सुरक्षा इंतजार करके रखें। वहीं नगर निगम और जिला प्रशासन के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के नंबर भी अपने मोबाइल पर सुरक्षा रखें। इसके अलावा घर और आंगन में बिजली के तार खुले न रखें। इन्हें सुरक्षित बंद कर दें।

विजय नगर से उखरी रोड़ होकर बल्देवबाग-

विजय नगर से उखरी रोड़ होते हुए जो वाहन चालक बल्देवबाग की ओर आए, उन्हें चौराहे पर लंबा जाम का सामना करना पड़ा। किसी तरह आगे बढ़े तो आगा चौक पर लगे लंबे जाम में फिर फंस गए। इस दौरान चार पहिया से लेकर भारी वाहन भी फंसे रहे।

आगा चौक से रानीताल, चंचलाबाई तक-

आगा चौक से रानीताल की ओर आने वाले दो और चार पहिया चालकों को लंबे जाम का सामना करना पड़ा। वाहनों का जाम फ्लाईओवर के काम की वजह से और लंबा हो गया। वाहन चालकों को हनुमान मंदिर से चंचलाबाई तक का सफर तय करने में एक से डेढ़ घंटे का समय लगा।

स्नेह नगर से मदनमहल लिंक रोड़-

विजय नगर से स्नेह नगर तक तो वाहन चालक किसी तरह आ गए। स्नेह नगर गेट नंबर चार पर नाला उफनाने ने उन्हें फिर लंबे जाम में फंस दिया। यह जाम मदनमहल लिंक रोड़ से अंडर ब्रिज तक वाहन रैंगते हुए आगे बढ़े। यहां से होमसाइंस रोड पर स्मार्ट सिटी का काम चलने से जाम और लंबा हो गया।

शास्त्री ब्रिज से भंवरताल, रसल चौक -

शास्त्री ब्रिज से जैसे ही वाहन चालक भंवरताल की ओर बढ़े तो यहां भी सड़कों पर घुटने से पानी था। आसपास खड़े वाहन, पानी में डूब गए थे। यहां से लोगों ने अपने वाहन को जबलपुर हास्पिटल से रसलचौक ओर बढ़ाया तो यहां भी सड़कों पर बारिश का पानी भरा था।

शहर का ड्रेनेज सिस्टम खराब -

नगर निगम के निगमायुक्त आशीष वशिष्ठ ने शहर में बारिश की वजह से बने हालात पर कहा कि यहां का ड्रेनेज सिस्टम खराब है। इसे पूरी तरह से दुरूस्त करना होगा। नगर निगम ने एक माह पूर्व नाली-नाली की सफाई की। कई जगह नाली के पानी को अवरूध करने वाले कारकों को हटाया गया। दीवार तोड़ी यहां तक की नाले पर जमे अतिक्रमण भी हटाए। इसके बावजूद शहर के निचले हिस्सों में पानी भर गया, जहां पर नगर निगम के बचाव दल लगातार काम कर रहे हैं। शहर में अभी कई हिस्से ऐसे हैं, जो हर साल बारिश में डूब जाते हैं। इनमें शिवनगर और गंगासागर प्रमुख हैं। यहां पर नालों की निकासी के लिए नए सिरे से काम करना होगा।

- आशीष वशिष्‍ठ, निगमायुक्त

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close