जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने तल्ख लहजे में कहा किपश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद महिलाओं से दुष्कर्म हो रहा है और ममता बैनर्जी सरकार आल इज वेल का झूठा दावा करने में मशगूल है। वे एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने जबलपुर आए थे। सर्किट हाउस में मीडिया से मुखाबित होते हुए उन्होंने ममता बनर्जी सरकार को कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि चुनावी हिंसा के भय से लोग बंगाल से पलायन के लिए विवश हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान आत्मा की आवाज पर मतदान करने वाली जनता की हत्याएं की जा रही हैं। लोकतंत्र में मीडिया की भूमिका अहम है। जिस दिन मीडिया भयाक्रांत हो जाएगा, जाहिर सी बात है किलोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा। दुर्भाग्यवश बंगाल में हिंसाग्रस्त वातावरण के बीच इंसान भयाक्रांत है। आलम यह है किलेागबाग अपने भय की चर्चा तक करने से गुरेज करते नजर आ रहे हैं। मैंने यह सब बंगाल में अपनी आंखों से नजदीक से देखा है।

उन्होंने कहा किराज्यपाल होने के नाते, संविधान का रक्षक होने के नाते में हर संभव कोशिश कर रहा हूं। मेरा निष्कर्ष है किबंगाल के बुरे हालात के सिलसिले में बाहर का मीडिया अवगत नहीं है। यह लोकतंत्र के लिए एक बड़ी चुनौती है। लोकतांत्रिक मूल्यों और मानवाधिकार के कारण ही मनुष्य की अस्मिता सुरक्षित है। स्वाधीनता के बाद जो भयावह हालात मैंने बंगाल में देखे, उसकी कल्पना तक पूर्व में नहीं की जा सकती थी। मैं तीन दिनों तक समूचे बंगाल में घूमा और देखा किकिस तरह जमकर पलायन हुआ है। लोग कैसे दूसरे प्रांतों की तरफ चले गए हैं।

राहत शिविरों में मैंने नजदीक से देखा किसरकार उदासीन है और उसके संरक्षण में खुलेआम अत्याचार हो रहा है। आश्चर्य की बात तो यह है किकोई भी यह सब देखकर भला कैसे चुप रह सकता है। सरकार कैसे आल इज वेल कह सकती है। मीडिया को यह सब सामने लाना चाहिए। क्या इस तरह लोकतंत्र में वोट देने के एवज में मौत बांटने को सही कहा जा सकता है। मीडिया बंगाल के हालात की जमीनी रिपोर्ट तैयार करे ताकि सच्चाई पूरे देश के सामने आए। साथ ही राज्य सरकार पर दबाव बने।

केंद्र सरकार के प्रयास सराहनीय

राज्यपाल ने भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन का लक्ष्य हासिल होने पर प्रसन्नता जताई। स्वास्थ्य कर्मियों, वैज्ञानिकों, चिकित्सकों सहित अन्य की सराहना की। प्रतिकूल हालात में बेहतर कार्य को सराहनीय निरूपित किया। बंगाल तक शासकीय योजनाओं का लाभ पहुंचाने की भी तारीफ की। देश में 12 करोड; परिवारों तक मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाने की योजना को रेखांकित किया।

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ कुछ देर सर्किट हाउस में रुकने के बाद कलकत्ता हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव के भंवरताल उद्यान के समीप स्थित निवास पहुंचे। साथ ही मुख्य न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव के दिवंगत पिता स्व. हरिशंकर श्रीवास्तव को श्रद्धांजलि दी। शाम को राज्यपाल नई दिल्ली रवाना हो गए। कलकत्ता हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव पिछले दिनों मध्य प्रदेश हाई कोर्ट से स्थानांतरित व पदोन्नत होकर कलकत्ता हाई कोर्ट पहुंचे हैं। इससे पूर्व आप मध्य प्रदेश हाई कोर्ट की मुख्यपीठ जबलपुर में प्रशासनिक न्यायाधीश बतौर पदस्थ थे। उन्होंने जबलपुर से वकालत की शुरुआत करने के बाद यहीं न्यायाधीश नियुक्त होने का गौरव हासिल किया।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local