जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे स्टेशन की सफाई को लेकर इन दिनों रेलवे कई बड़े बदलाव कर रहा है। इतना ही नहीं उसने सफाई के साथ गंदगी करने वालों पर भी अपनी पैनी कर दी है। रेलवे स्टेशन पर लगे कैमरों की मदद से गंदगी करने वालों को पकड़ा जा रहा है। जबलपुर समेत जबलपुर, भोपाल और कोटा रेल मंडल के स्टेशनों पर गंदगी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई। अप्रैल माह में ही पश्चिम मध्य रेलवे ने 458 लोगों के खिलाफ गंदगी फैलाने का प्रकरण दर्ज किया गया। इनसे 52 हजार रुपये का जुर्माना लगाया और वसूल किया गया। दरअसल ट्रेनों में भीड़ बढ़ने से ट्रेन और स्टेशन पर गंदगी बढ़ गई है। यात्रियों को लगातार रेलवे जागरूक कर रहा, लेकिन इसका असर न तो कोच में दिख रहा और न ही स्टेशन पर।

हर घंटे सफाई पर नजर-

तीनों मण्डलों के 300 से ज्यादा रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को स्टेशन परिसर एवं गाड़ियों में स्वच्छ, सुखद एवं पर्यावरण अनुकूल वातावरण मुहैया कराने के लिए रेलवे अब कैमरों की मदद ले रहा है। रेलवे स्टेशनों एवं रेलगाड़ियों में नियमित साफ सफाई करने के लिए इन दिनों कमर्शियल विभाग के अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। वाट्सअप ग्रुप बनाकर हर स्टेशन की सफाई पर हर घंटे नजर रखी जा रही है। इतना ही नहीं रेलवे ने अब स्टेशन के बाहर भी सफाई रखने के लिए स्टेशन प्रबंधन को जिम्मेदारी दी है। यात्रियों से स्टेशन परिसर को साफ सुथरा रखने, धूम्रपान नहीं करने तथा यहां वहां गंदगी नहीं करने के लिए एनाउंसमेंट किया जा रहा है।

सफाई बजट में कटौती

रेलवे ने स्टेशन की सफाई पर ज्यादा फोकस किया, लेकिन पिछले कुछ सालों में इस पर होने वाले खर्च पर कटौती की गई, जिससे स्टेशन की सफाई व्यवस्था पटरी से उतरी, लेकिन एक बाद फिर इसे सुधारने की कवायद शुरू हो गई है। इस बार सफाई करने के साथ गंदगी करने वालों पर भी नजर रखी जा रही है। इसके लिए आरपीएफ, स्टेशन प्रबंधक से लेकर टीटीई जैसे रनिंग स्टाफ को इसका काम सौंपा गया है।

गंदगी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू

रेलवे ने स्टेशन पर गंदगी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। अप्रैल माह में ही तीनों मंडल में 458 लोगों पर कार्रवाई करते हुए 52 हजार रुपये का जुर्माना लगाया।-राहुल जयपुरिया, सीपीआरओ, पश्चिम मध्य रेलवे

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close