जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ठंड के तेवर अब भी ढीले है। पश्चिम विक्षोभ का असर खत्म होने के बाद भी वातावरण में वैसी ठंडक नहीं बढ़ पा रही जैसी संभावना जताई जा रही थी। हालांकि पहाड़ों से आ रही उत्तरी हवा से रात में और सुबह-सुबह जरूर तेज ठंड महसूस हो रही है। लेकिन दोपहर में सूरज की तेज धूप पसीने छुड़ा रही है। तापमान में भी स्थिरता बनी हुई है। मौसम विभाग का कहना है कि मौसम पूरी तरह से साफ हो चुका है। उत्तरी हवा भी दो से तीन किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चल रही है। लिहाजा ये संभावना जताई जा रही है कि दिसंबर माह के आगाज के साथ ही जाड़ा जोर पकड़ेगा। वैसे भी दिसंबर माह में ठंड का असर बढ़ जाता है। इस माह कड़ाके की सर्दी पड़ती है।

सुबह रही ठंड : बहरहाल शुक्रवार की सुबह-सुबह ठंड का असर तेज रहा। लोग ठंड से बचने गर्म कपड़े पहने दिखे। ठंड के कारण सुबह सुबह ओस की बूंदें बिछी रही। लेकिन सूरज चढ़ने के साथ ही दोपहर में तेज धूप लगने लगेगी। धूप का असर अब भी तेज है। गत शाम को ठंड का असर कम रहा। हालांकि रात में ठंडी हवा लोगों को सिहराती रही। गुरुवार को अधिकतम तापमान 29 डिग्री और न्यूनतम तापमान 14.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि शुक्रवार को सुबह 8:30 बजे तापमान 17.9 डिग्री रहा।

अब बढ़ेगी ठंड : मौसम विभाग की माने तो पहाड़ों से उत्तरी हवा दो से तीन किमी प्रतिघंटे की गति से चल रही है। वातावरण में ठंड और नमी बढ़ गई है। आने वाले दिनों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट देखी जा सकेगी। ठंड का असर बढ़ने लगेगा।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local