जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गोरखपुर थाना क्षेत्र में दशमेश द्वार के पास लकड़ी के टाल में बने कमरे में रहने वाली महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मृतका के परिजनों ने उसके पति पर मारपीट करने और मौत के पीछे पति का हाथ होने के गंभीर आरोप लगाए हैं।

गोरखपुर पुलिस ने बताया कि राजा बेरागी दशमेश द्वार के पास एक टाल में काम करता है। राजा अपनी पत्नी आरती 23 वर्ष एवं बेटी के साथ वहीं पर बने कमरे में किराए से रहता है। कल रात में करीब 7.30 बजे आरती ने अपने कमरे में चुनरी के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा कार्रवाई कर शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए मर्ग कायम कर प्रकरण की जांच शुरू कर दी है।

शरीर पर चोट के निशान मिले-

घटना के संबंध में मृतका के परिजनों पवन बघेल ने बताया कि मृतका आरती उसके मामा की बेटी है। रात में करीब 8 बजे परिजनों को आरती द्वारा फांसी लगाए जाने की सूचना मिली थी। परिवार के लोग पहुंचे तो कमरे में आरती का पति राजा बैठा हुआ था। आरती का शव कमरे में रखा था। शरीर पर चोट के निशान थे। जिस कारण परिजनों ने राजा द्वारा मारपीट कर आरती को मारने का आरोप लगाया है।

अक्सर होता था विवाद-

बताया जा रहा है कि राजा और उसकी पत्नी आरती के बीच अक्सर विवाद होता था। राजा शराब पीने का आदि है। राजा की मां व अन्य लोग दशमेश द्वार के पास रहते है। कुछ समय पहले ही राजा अपनी पत्नी आरती व बेटी को लेकर टाल में बने कमरे में अलग रहने लगा था। घटना के वक्त राजा व आरती की बेटी अपनी दादी के पास गई थी।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close