जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बरसात के मौसम में घरों में सांप निकलने की घटनाएं बढ़ गई हैं। भेड़ाघाट के अंधुआ बेहदन गांव में लक्ष्मण अहिरवार के घर कोबरा सांप ने दहशत फैला दी। लक्ष्मण के घर शंकर जी का मंदिर बना है। उसकी पत्नी शिवलिंग पर जल चढ़ाने पहुंची, तभी मंदिर के पीछे बैठे कोबरा ने उसे फुफकार मारी। सांप की फुफकार सुनकर महिला उल्टे पांव भागी, जिसके बाद स्वजन भी दहशत में आ गए।

उन्होंने सर्प विशेषज्ञ गजेंद्र दुबे शास्त्री को सूचना दी। मौके पर पहुंचे सर्प विशेषज्ञ ने कोबरा को पकड़ लिया तथा बरगी के जंगल में छोड़ा। इधर, अयोध्या विहार कालोनी देवताल निवासी अरुण गौर के घर में वाशबेसिन पर धामन सांप कुंडली मारे बैठा था। सुबह गौर की नींद खुली। वे मुंह धोने के लिए वाशबेसिन के पास पहुंचे और सांप देकर चीख पड़े। जिसके बाद स्वजन भी दहशत में आ गए। सर्प विशेषज्ञ दुबे ने मौके पर पहुंचकर धामन पर काबू पाया। वहीं रामायण मंदिर के पास सूपाताल निवासी आशीष शाहा के घर की रसोई में सांप का जोड़ा मिला। एक साथ दो सांपों को देकर शाहा स्वजन समेत घर से बाहर निकल गए। सर्प विशेषज्ञ गजेंद्र दुबे ने दोनों सांपों को पकड़कर जंगल में छोड़ा।

यह भी पढ़ें ः Jabalpur News : मुंबई से आया माडल बरगी डेम में डूबा

मारपीट करने वाले पति, सास के खिलाफ प्रकरण दर्ज-

शहपुरा पुलिस ने महिला के साथ मारपीट कर प्रताड़ित करने वाले उसके पति व सास के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस ने बताया सेहन जैन ने रपोर्ट दर्ज कराई है कि शादी के 4-5 दिन के बाद से ही पति अर्पित जेैन एवं सास आराधना जैन कम दहेज लाने की बात बोलकर उसे मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर मारपीट करते थे। वह अपने मायके आ गई थी। 22 जून को पति अर्पित उसे किसरोद में मिला और उसे एवं उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close