जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे में बढ़ते काम का दबाव और कर्मचारियों के तनाव को देखते हुए रेलवे अब ऐसे आयोजन कर रही है, जिसकी मदद से कर्मचारियों को तनाव मुक्त रखा जाए। खास तौर से तनाव से होने वाली बीमारियों से बचाने के लिए रेलवे हर मंडल में जागरूकता शिविर आयोजित कर रही है इस कड़ी में जबलपुर में हार्ट अटैक से बचने की जानकारी देने के लिए अनुभवियों ने अपनी बात रखी। रेलवे के अधिकारियों/कर्मचारियों में कार्डियक ऐरेस्ट एवं हार्ट अटैक पर जागरुक करने के लिये, होली फेमली अस्पताल, बांद्रा वेस्ट, मुम्बई के आई केयर प्रोग्राम के तहत पश्चिम मध्य रेल के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिये सीपीआर ट्रेनिंग कार्यशाला का आयोजन वेबिनार के माध्यम से किया गया।

इस कार्याक्रम का आयोजन पूरे पश्चिम मध्य रेल पर किया गया जिसमें मुख्यालय में 1, जबलपुर मंडल पर 5, भोपाल मंडल पर 7, कोटा मंडल पर 3, कोटा कारखाना पर 2 एवं भोपाल कारखाना पर 1 सेन्टर पर इस कार्याशाला का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 500 अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर मुख्यालय में प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी एस.के.अलबेला, मुख्य कार्मिक अधिकारी/प्रशासन, प्रभात, उप मुख्य कार्मिक अधिकारी/प्रशासन, एच.एस. मीना, उप मुख्य कार्मिक अधिकारी/आईआर अनिल कुमार तिवारी एवं मुख्यालय के अन्य अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे।

कार्यशाला में होली फेमली अस्पताल, बांद्रा वेस्ट, मुम्बई की सौम्या राघवन, आनंद श्रीवास्तव एवं डा. अक्षय मेहता ने कार्डियक ऐरेस्ट एवं हार्ट अटेक में अंतर के साथ-साथ इनको किस प्रकार पहचान कर तत्काल किए जाने वाले उपायों से अवगत कराया। इसके साथ कार्डियक ऐरेस्ट में तत्काल उपचार में उपयोग में आने वाली आटोमेटेड एक्सर्टनल डेफिब्रिलेटर (एईडी) का उपयोग किस प्रकार से करना है इसकी जानकारी वीडियो के माध्यम से प्रदान की है।

कार्यक्रम के अंत में प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी एसके अलबेला द्वारा आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन सहायक कार्मिक अधिकारी/कल्याण अभय गुप्ता द्वारा किया गया।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close