जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। यदि किसी व्यक्ति का नाम जिले की विधानसभा और लोकसभा चुनाव की मतदाता सूची मेें दर्ज नहीं है, नाम छूट गया है या फिर नाम-पता में कोई बदलाव करना है। तो आज से मतदान केंद्र पर जाकर यह काम किया जा सकता है। आयोग ने 26 नवंबर से 25 दिसंबर तक नाम जोड़ने-काटने और किसी भी तरह के संशोधन के लिए कार्यक्रम जारी कर दिया था। नए वोटर कार्ड के लिए भी लोग आवेदन जमा करा सकते हैं।

प्रारूप प्रकाशन के बाद जुड़ेंगे नाम: 25 नवंबर यानी बुधवार को लोकसभा चुनाव की मतदाता सूची का प्रारूप प्रकाशन किया गया है। गुरुवार से लोग अपने नाम निर्वाचन कार्यालय या मतदान केंद्र में जाकर जुड़वा सकेंगे। इस बीच 12,13,19 और 20 दिसंबर को जिले के मतदान केंद्रों और अन्य जगहों पर विशेष शिविरों का आयोजन भी होगा। दावा आपत्तियों का निराकरण करने की अंतिम तारीख 7 जनवरी 2021 तय की गई है। वहीं 15 जनवरी 2021 को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। चुनावी कार्य संपादित करने के लिए निर्वाचन कार्यालय विभिन्न विभागों के कर्मचारियों की तैनाती करने लगा है। चुनावी ड्यूटी से जुड़े आदेश भी जारी होने लगे हैं। चतुर्थ श्रेणी कर्मियों के अलावा बीएलओ व मतदान केंद्र से जुड़े कार्य भी तेज हो गए हैं। फिलहाल मतदान केंद्रों के संबंध में रिपोर्ट आयोग को भेजी गई है। इस बार प्रत्येक मतदान केंद्र में एक हजार से ज्यादा वोटर नहीं रखे जाएंगे। इसलिए नए सिरे से मतदान केंद्रों को चिंन्हित किया गया है।

इतने हैैं अभी वोटर: जिले में विधानसभा और लोकसभा चुनाव की सूची में 18 लाख 25 हजार 541 वोटर शामिल हैं। एक माह बाद पता चलेगा कि नए वोटर कितने जुड़े हैं। वहीं कितने लोग शहर से जिले से बाहर जा चुके हैं। इस दौरान सूची को अपडेट किया जाएगा।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस