झाबुआ। जिले के कालीदेवी थाना क्षेत्र के गांव परवट में आठवीं कक्षा की छात्रा की करंट लगने से मौत हो गई। घटना परवट के कन्या छात्रावास की है। वो सुबह 8 बजे कपड़े सुखाने के लिए हॉस्टल की छत पर गई थी। छत के ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई। परिजनों ने सरकारी तंत्र पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

14 वर्षीय कमला पिता दिलीप सिंगाड़िया निवासी ग्राम खेड़ा परवट के ही सरकारी स्कूल में पढ़ती है। मिली जानकारी के अनुसार वो स्कूल जाने की तैयारी कर रही थी। नहाकर कपड़े सुखाने हॉस्टल की छत पर पहुंची। कपड़े सुखाने के दौरान वो करंट की चपेट में आ गई। कुछ देर तक किसी को पता नहीं चला। जब दूसरी छात्राएं छत पर गई तो वह अचेत पड़ी मिली। वार्डन को छत पर बुलाया गया और गांव के दूसरे लोग पहुंचे। छात्रा की मौत हो चुकी थी। वार्डन ने कालीदेवी पुलिस को खबर दी। पुलिस ने शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा। मृतक छात्रा के पिता दिलीप सिंगाड़िया का कहना है कि कई बार छत से गुजर रही हाईटेंशन लाइन के बारे में कहा था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। परिजनों का ये भी आरोप है कि घटना के बाद दोपहर तक विभाग का कोई अधिकारी हॉस्टल नहीं पहुंचा।-निप्र

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local