पट्टी पर.....

विधिक साक्षरता शिविर

कानून का पालन कर इसे जीवन का हिस्सा बनाएं

-अपर जिला और सत्र न्यायाधीश जेसी राठौर ने कन्या उमा विद्यालय में कहा

पेटलावद। नईदुनिया न्यूज

विधि को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बनाएं तथा दैनिक जीवन में विधि का पालन कर खुद पर होने वाले अन्याय व अपराध के विरुद्ध विधि का सहारा लें। अपने ऊपर होने वाले किसी भी अपराध को छुपाने व संकोच करने के बजाय अपने शिक्षक, परिवार को अवगत करवाएं व उसकी शिकायत पुलिस को भी करें।

यह बात अपर जिला व सत्र न्यायाधीश जेसी राठौर ने कन्या उमा विद्यालय में जिला व सत्र न्यायाधीश अशोक कुमार तिवारी के मार्गदर्शन में तहसील विधिक सेवा समिति द्वारा आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में छात्राओं को संबोधित करते हुए कही। न्यायाधीश राठौर ने छात्राओं से सीधे संवाद स्थापित करते हुए यातायात सुरक्षा के प्रति जागरूक करते हुए कहा कि वैध लायसेंस के बिना वाहन न चलाएं। साथ ही दुर्घटना से सुरक्षा के लिए हेलमेट का उपयोग करें और अपने पालको को भी इसके लिए प्रेरित करें तथा यह भी देखें कि अपने यहां जो भी वाहन है उसके बीमा का नवीनीकरण समय पर हो रहा है या नही और समय पूर्व नवीनीकरण करवाने के लिए पालकों को ध्यान दिलाएं। न्यायाधीश राठौर ने सायबर अपराधों से निपटने के लिए संसद द्वारा बनाए गए कानूनों की उपयोगिता पर भी प्रकाश डाला तथा पास्को एक्ट सहित उपयोगी विधियों व कानूनों से अवगत कराया। व्यवहार न्यायाधीश संजीव कटारे ने छात्राओं से दैनिक जीवन में स्वयं के प्रति सजग रहने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति आपको किसी भी रूप में बहलाने का प्रयास करे या स्पर्श करे तो उसके बुरी नीयत से किए जाने वाले स्पर्श को पहचाने व बिना संकोच इसकी सूचना अपने परिजनो व शिक्षको को दे व विधि का सहारा ले।

शिविर को व्यवहार न्यायाधीश सुर्यपालसिंह राठौर ने भी संबोधित किया। शिविर के प्रारंभ में छात्राओं ने अतिथियों का स्वागत तिलक लगाकर किया। संस्था की और से स्वागत भाषण प्राचार्य औकारसिंह मैडा ने दिया। अतिथि परिचय शिक्षक गोपाल काग ने करवाया। संचालन अभिभाषक निलेशसिंह ने किया। आभार विधिक सेवा समिति की ओर से राजेश यादव ने माना। इस अवसर पर उत्कृष्ट विद्यालय के प्राचार्य पीटर रिबेलो, अभिभाषक जितेन्द्र जायसवाल, न्यायालय नाजिर बरमंडलिया, शिक्षक लता असोलिया, निर्मला कौशिक, नेहा जानी, प्रमीला पाटीदार, नीलोफर शेख, पूर्वा मंडलोई, दिव्या विश्वकर्मा, पूजा परमार, कोमलसिंह भाभर, राधा गेहलोत, जितेन्द्र राठौड, धर्मेन्द्र मुनिया आदि उपस्थित थे।

13 पीईटी 6 पेटलावद में विधिक साक्षरता शिविर को संबोधित करते हुए न्यायाधीश राठौर।

13 पीईटी 7 शिविर में बड़ी संख्या में छात्राओं ने भाग लिया।