मंदिर भूमि को शासकीय घोषित किया

मेघनगर। कलेक्टर को जनसुनवाई में दिए गए आवेदन में मंदिर के पुजारी के आवेदन पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व न्यायालय ने सर्वे क्रमांक 609-2 रकबा 0.130 में भूमि को शासकीय घोषित कर दिया। मंदिर के पुजारी कालू मडिया डामोर और बहादुर वसुनिया ने कलेक्टोरेट में जनसुनवाई में आवेदन किया था। अनुविभागीय अधिकारी न्यायालय ने तहसीलदार को निर्देशित किया कि शासकीय भूमि में निर्मित मंदिर को शासकीय घोषित करने तथा पुजारी की नियुक्ति करने का प्रस्ताव शीघ्र वरिष्ठ कार्यालय को भेजा जाए।उक्त शासकीय भूमि की रजिस्ट्री विलेख को शून्य घोषित करने के लिए न्यायालय में प्रशासन की ओर से अलग से वाद दायर किया जाए। मंदिर समिति के रहवासी एवं समिति के सदस्यों ने मंदिर जमीन को शासकीय घोषित करने के बाद मंदिर परिसर में एकत्रित होकर मां कालिका का आशीर्वाद लिया तथा मिठाई बांटकर खुशियां मनाई वहीं दूसरे को बधाइयां दी।

स्वच्छता ही सेवा का संदेश देते हुए रैली निकाली

मेघनगर। नगर परिषद की सहयोगी संस्था इंडियन वेस्ट मैनेजमेंट सर्विसेस द्वारा स्वच्छता ही सेवा अभियान के अंतर्गत बुधवार को शासकीय कन्या उमा विद्यालय द्वारा स्वच्छता रैली का आयोजन किया गया। रैली सहारा कंपाउंड से होकर नगर परिषद, रेलवे फाटक, साईं चौराहा, बस स्टैंड, झंडा चौक से होकर कन्या शाला तक पहुंची। जिसमें छात्राओं द्वारा रहवासियों को सिंगल यू? प्लास्टिक के उपयोग से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में बताया गया। सिंगल यूज प्लास्टिक का बहिष्कार करने एवं प्लास्टिकमुक्त शहर बनाने में सहयोग करने को आम लोगों से अपील की गई। इस कार्यक्रम में नगर परिषद सीएमओ विशाल डावर, नगर परिषद का संपूर्ण स्टाफ भी इस अवसर पर मौजूद रहा।