समस्या : पाइप लाइन डालने के लिए पूरे रास्ते को खोदने से आई परेशानी

सड़क की जर्जर हालत से ग्रामीण परेशान, गड्ढों से दुर्घटना का डर

बोलासा। नईदुनिया न्यूज

निर्मल ग्राम पंचायत तारखेड़ी में नल-जल योजना के अंतर्गत मुख्य मार्ग पर पाइप लाइन डालने के लिए पूरे रास्ते खोदने से मार्गों की स्थिति बदहाल हो चुकी है। शाम होने के बाद अंधेरे से लिपटी मोहल्ले की सड़कों पर गुजरने में भी लोगों को भय होता है। स्थानीय जनप्रतिनिधि से लेकर पंचायत अधिकारी तक उदासीन नजर आते हैं। गांव के मार्गों में सड़कों पर सैकड़ों जानलेवा गड्डे बने हुए है। गांव के बिजली खंभे पर लगे एलइडी लाइट शोभा की वस्तु बन कर रह गई है।

मुख्य मार्ग की सड़क ज्यादा जर्जर

बस स्टैंड से घाटियां मोहल्ला से गुजरने वाला रास्ता जानलेवा बन गया है। बाइक सवार आए दिन गिरते हैं। ऐसी ही स्थिति अन्य रोड की भी है। सड़क पर हल्की बारिश के बाद भी जलजमाव की हालत बन जाती है। कस्बे में जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। इससे मच्छरों का प्रकोप बढ़ रहा है। मच्छरों के नियंत्रण की गतिविधियां नहीं की जा रही है। सफाई नहीं होने से नालियों से लेकर सड़कों तक पानी फैल रहा है। बीमारियां बढ़ने के बावजूद समस्या पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। मच्छरों का प्रकोप इतना है कि कॉयल और स्प्रे से नियंत्रण नहीं हो रहा है।

बीमारी की चपेट में आ रहे ग्रामीण

गंदगी से लोगों को खांसी, जुकाम और बुखार की चपेट में आ रहे हैं। इसके बावजूद कस्बे की साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दे रहा है। पंचायत के पास पुलिया की गंदगी से परेशान कस्बेवासियों ने लिखित तथा मौखिक रूप से प्रशासनिक अधिकारियों को कई बार अवगत भी करा दिया है, लेकिन अभी तक भी किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है। बायपास रोड की हालत सबसे खराब है। इस सड़क पर वाहनों व लोगों को आवाजाही में परेशानी होती है। इस संबंध में सरपंच तेजालाल सिंगाड़ का कहना है कि पाइप लाइनों का काम पूर्ण कर जल्द ही सभी मुख्य मार्ग को रिपेयर कर दिया जाएगा।

* 12 जेएचए 03 - तारखेड़ी का मुख्य मार्ग जर्जर अवस्था में पड़ा है।