झाबुआ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दो माह पहले ही भीषण तबाही मचाने वाला कोरोना अब यहां फीका हो गया है। मात्र दो कोविड मरीज ही जिले में बचे हैं। वहीं एक मरीज जिले के बाहर हैं। नए केस अब आ नहीं रहे हैं। यदि यही स्थिति रही तो बहुत जल्दी जिला कोरोना मुक्त हो जाएगा। हालांकि बचाव के तरीकों को अभी उपयोग में लेना ही होगा। ऐसा नहीं किया तो फिर समस्या बढ़ सकती है। कोरोना अभी कम हुआ है, खत्म नहीं हुआ है।

लगातार जांच हो रही है। संख्या भी अच्छी खासी है, लेकिन राहत की बात यह है कि संक्रमित जांच में मिल नहीं रहे हैं। गुरुवार को 1120 जांच हुई और सभी रिपोर्ट निगेटिव आई। इसका सीधा अर्थ यह है कि कोरोना अब हल्का पड़ गया है।

यह है स्थिति

- 00 केस गुरुवार को

- 00 स्वस्थ हुए

- 01 मौत हुई

- 7683 संक्रमित हुए अब तक

- 7617 स्वस्थ हुए

एक नजर में

- 10 लाख 24 हजार आबादी

- 159489 कोरोना जांच अब तक

- 63 मौत अब तक

- 03 सक्रिय मरीज वर्तमान में

जून ने राहत दी

अप्रैल में भारी नुकसान उठाना पड़ा। मई वापस संभलने में लग गया। हालात यह रहे कि अभी तक मौत का ऑडिट ही चल रहा है और सामान्य स्थिति होने के बाद भी अब प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद डेथ के मामले सरकारी रेकॉर्ड में दर्ज हो रहे हैं जबकि अब हालात पूर्णतः काबू में हैं। जून में अब तक सिर्फ 21 केस आए हैं। इससे साफ है कि जून ने बहुत राहत दी है।

तीसरी लहर की चर्चा लेकिन लापरवाही

इसी माहौल के बीच तीसरी लहर आने की आशंकाओं को लेकर चर्चा लगातार हर स्तर पर हो रही है किंतु सावधानी कहीं नहीं रखी जा रही। बाजार में उमड़ रही भीड़ और कोरोना नियमों की उड़ती धज्जियां भविष्य में खतरा पैदा कर सकती हैं। मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डा. जयपाल सिंह ठाकुर का कहना है कि लापरवाही करना ठीक नहीं है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags